देश में ऑक्सीजन की समस्या के बीच भारतीय रेलवे का बड़ा कदम जानिए क्या करने जा रहा है ?

देश में कोरोना का कहर बढ़ता ही जा रहा है. किसी ने सोचा भी नहीं होगा कि कुछ ही दिनों में मरीजों की संख्या इतनी तेजी से बढ़ने लगेगी. कोरोना के अब आंकड़ों ने सरकार की भी चिंता बढ़ा दी है. अब हर दिन 2 लाख से ज्यादा नए मरीज सामने आ रहे हैं जोकि चिंता का विषय है. साथ ही हजारों लोग इस वायरस के चलते अपनी जान दे रहे हैं.

जानकारी के लिए बता दें कोरोना के बढ़ते संक्रमण के चलते देशभर में ऑक्सीजन की भारी कमी सामने आ रही है. कई जगह तो ऑक्सीजन ही न मिलने की वजह से लोगों की जान चली गयी. ऑक्सीजन की कमी को दूर करने के लिए मुकेश अंबानी आगे आये हैं और अपनी कंपनी से निशुल्क ऑक्सीजन मुहैया करवा रहे हैं. अब इसी बीच भारतीय रेलवे ने भी बड़ा फैसला लिया है.

देशभर में ऑक्सीजन की कमी के चलते रेलवे ऑक्सीजन स्पेशल एक्सप्रेस ट्रेन चलाने जा रहा है, इन ट्रेनों के लिए ग्रीन कॉरिडोर बनाये जा रहे हैं. रेलवे ने बयान जारी कर इस बात की जानकारी दी है. रेलवे ने बताया है कि टेक्निकल ट्रायल्स के बाद खाली टैंकरों को महाराष्ट्र के रेलवे स्टेशनों पर भेजा जायेगा. जोकि विजाग, जमशेदपुर, राउरकेला, बोकारो जायेंगे. इन जगहों पर टैंकरों में लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन (LMO) की लोडिंग की जाएगी.

गौरतलब है कि इन ट्रेनों में ऑक्सीजन की लोडिंग के बाद फिर इन ऑक्सीजन ट्रेनों को उनके गंतव्य स्थान पर पहुंचाया जाएगा. कहा जा रहा है कि रेलवे ने महाराष्ट्र और मध्यप्रदेश सरकार के आग्रह के बाद ये फैसला लिया है. वहीँ रेलमंत्री पीयूष गोयल ने इस बात की भी जानकारी दी थी कि दिल्ली के शकूरबस्ती स्टेशन पर 50 कोविड-19 आइसोलेशन कोच तैयार किये हैं जिनमें 800 बेड्स की सुविधा है. इसी के साथ आनंद विहार स्टेशन पर भी 25 कोच मरीजों के लिए उपलब्ध रहेंगे. कोरोना महामारी के समय में भारतीय रेलवे ने पहले भी अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया था.

Related Articles