अगर आप भी 4 मई से ट्रेन यात्रा और हवाई यात्रा करने की उम्मीद लगाये बैठे हैं तो आपके लिए ये बुरी खबर है

कोरोना का प्रकोप कम होने का नाम नही ले रहा है. ऐसा कोई दिन नही जा रहा है जब सैंकड़ों की संख्या में लोग इसकी चपेट में न आ रहे हों. इन्ही बातों को ध्यान में रखते हुए पीएम मोदी ने लॉकडाउन को आगे बढ़ाने का सही समझा और 3 मई तक पूरे देश में लॉकडाउन को लागू कर दिया. पीएम मोदी के इस फैसले के बाद उन लोगों की उम्मीद पर पानी फिर गया जो 14 अप्रैल के बाद सफ़र करने जा इन्तजार कर रहे थे.

जानकारी के लिए बता दें लॉकडाउन के चलते पूरे देश में रेल सेवा, बस सेवा और हवाई सेवा ठप्प पड़ी हुई हैं. इस स्थिति में सरकार अगर इन सेवाओं को जारी कर दे तो परिणाम और भी भयावह हो सकते हैं. वहीँ अब सरकार ने 3 मई तक के लिए लॉकडाउन लागू कर दिया है तो लोगों को उम्मीद है कि वो अब 3 मई के बाद तो यात्रा कर सकते हैं तो बता दें उनके लिए बुरी खबर है.

दरअसल सरकार का कहना है कि जो व्यक्ति जहाँ है वही रहे अगर शहर के गाँव की तरफ भागेगा तो कोरोना और भी तेजी से फ़ैल सकता है. कोरोना महामारी से निपटने के लिए लॉकडाउन खत्म होने के बाद भी ट्रेन, बस और हवाई सेवा पर लगा प्रतिबंध जारी रह सकता है. इसका साफ़ मतलब यही है कि 4 मई से भी ट्रेन, बस और हवाई यात्रा नही जा सकती हैं.

गौरतलब है कि ट्रेन, बस और हवाई सेवा नही जारी करने की यह जानकारी मंत्री समूह की बैठक में हिस्सा लेने वाले तीन अधिकारियों ने नाम न बताने की शर्त पर दी है. रेलवे और हवाई यात्राओं की सेवा को जारी करने पर लगातार बैठक हो रही हैं और सोचा जा रहा है कि आखिर किस तरह इन्हें फिर से संचालित किया जाए. वहीँ सूत्रों के अनुसार ये भी बताया गया है कि हवाई और रेल यात्राएं कब से शुरू होंगी इस बारे में अभी तक किसी विशेष तारीख पर चर्चा नही हुई है. उन्होंने कहा है कि फ़िलहाल ने चालू करने में लंबा समय लगेगा. जिसके चलते अब यही माना जा रहा है कि अब ये निश्चित तौर पर 3 मई से आगे बढ़ेगा. हवाई और रेल यात्रा पर अंतिम फैसला पीएम मोदी ही लेंगे. वहीँ एयरलाइन को भी ये कहा गया है कि वह फैसले के बाद ही टिकटों की बुकिंग शुरू करें.