जनेऊधारी ब्राह्मण के बाद अब राहुल गाँधी बने कश्मीरी पंडित, श्रीनगर दौरे पर पहुँच कर कहा, ‘मै भी कश्मीरी पंडित’

1632

हालाँकि अभी जम्मू-कश्मीर में चुनाव की आशंका दूर दूर तक नज़र नहीं आ रही लेकिन कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गाँधी का टेम्पल रन शुरू हो चुका है. कभी खुद को जनेऊधारी ब्राह्मण घोषित करने वाले राहुल गाँधी इन दिनों श्रीनगर के दौरे पर हैं. प्रसिद्द खीरभवानी मंदिर में दर्शन करने के बाद राहुल गाँधी ने खुद को कश्मीरी पंडित घोषित कर दिया.

मंगलवार को श्रीनगर दौरे पहुंचे राहुल गाँधी ने कहा कि जम्मू और कश्मीर का पूर्ण राज्य का दर्जा बहाल होना चाहिए और यहाँ जल्द से जल्द चुनाव कराये जाने चाहिए. साथ ही उन्होंने खुद को कश्मीरी पंडित भी बताया. खीरभवानी मंदिर में दर्शन करने के बाद राहुल गाँधी हज़रतबल दरगाह भी पहुंचे. इसके अलावा वह गुरुद्वारा और शेख हमज़ा मखदूम की मज़ार पर भी गए. श्रीनगर में ही उन्होंने पार्टी कार्यालय का उद्घाटन भी किया और मंगलवार शाम को ही वह वापस दिल्ली के लिए रवाना हो जायेंगे.

जम्मू और कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाये जाने के बाद ये राहुल गाँधी का पहला कश्मीर दौरा है. यहाँ उन्होंने प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष गुलाम अहमद मीर के बेटे की शादी में भी शिरकत की. अपने इस दौरे पर राहुल गाँधी ने कई पार्टी कार्यकर्ताओं से मुलाकात भी की. गौरतलब है कि पिछले दिनों ही जम्मू और कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाये जाने के 2 साल पुरे हुए हैं. कांग्रेस ने जम्मू और कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाये जाने का कड़ा विरोध किया था. हालाँकि इस मुद्दे पर पार्टी में आपस में ही फूट पड़ गई थी. पार्टी के कई युवा नेताओं में इस मुद्दे पर सरकार का साथ दिया था.