पाकिस्तान में हीरो बनने के बाद राहुल गांधी खुद को साबित कर रहे देशभक्त

1433

काफी लम्बे अरसे बाद राहुल गाँधी फिर सुर्ख़ियों में हैं. दरअसल आज उन्होंने दो ट्वीट किया. वैसे राहुल गाँधी को जानने वाले इन ट्वीट्स को देखते ही समझ जायेंगे की ये ट्वीट कम और राहुल गाँधी द्वारा फैलाए उस रायते की सफाई ज्यादा है, जो उन्होंने बीते दिनों अपनी कश्मीर यात्रा के दौरान फैलाई थी.

पहले आपको ये बता दें कि उन्होंने ट्वीट क्या किया है. राहुल गाँधी ने दो ट्वीट किये, “सरकार के साथ मेरी कई मुद्दों पर असहमति है .लेकिन मैं ये साफ़ कर देना चाहता हूँ कि कश्मीर भारत का आंतरिक मामला है और इसमें हस्तक्षेप करने का अधिकार न तो पाकिस्तान को है और न दुनिया के किसी अन्य देश को”. उन्होंने एक और ट्वीट किया, “जम्मू कश्मीर में हिंसा हुई है . ये हिंसा पाकिस्तान प्रायोजित है और उसके ही द्वारा भड़काई गई है. पाकिस्तान दुनिया भर में आतंकवाद का समर्थक है.”

जो लोग राहुल गाँधी और कांग्रेस पार्टी को अच्छी तरह से जानते हैं वो ये ट्वीट देख कर सोच में पड़ गए होंगे कि ये हमारे युवराज को अचानक क्या हुआ जो पाकिस्तान पर इतना भड़क गए? ये तो वही युवराज हैं जिन्हें सर्जिकल स्ट्राइक और एयर स्ट्राइक का सबूत चाहिए था. ये तो वही युवराज हैं जो पाकिस्तान पर केंद्र सरकार की आक्रामक नीति को चुनाव जीतने का हथकंडा बताते फिरते थे. तो हम आपको बता दें कि युवराज ने यूँ ही पलटी नहीं मारी है बल्कि उन्हें पलटी मारने पर मजबूर होना पड़ा है.

एक होता है पैर पर कुल्हाड़ी मारना, ये अक्सर धोखे से हो जाता है. कुल्हाड़ी चलते चलते वो धोखे से पैर पर ही लग जाता है … और एक होता है कुल्हाड़ी पर पैर मारना, मतलब की कुल्हाड़ी किसी कोने में पड़ा है और जान बूझ कर उस पर पैर मारते हैं और खुद को ज़ख़्मी कर लेते हैं. देश की सबसे पुरानी पार्टी कांग्रेस और इस पुरानी पार्टी के युवराज आज कल दूसरा वाला काण्ड कर रहे हैं. यानी कि कुल्हाड़ी पर पैर मार रहे हैं.

बात ये है कि बीते दिनों राहुल गाँधी की कश्मीर यात्रा को लेकर बहुत बवाल मचा. राहुल जी विपक्षी दलों के नेताओं के साथ कश्मीर जा रहे थे लेकिन पहुँच नहीं पाए. श्रीनगर एयरपोर्ट से ही उन्हें वापस भेज दिया गया और राहुल गाँधी ने वही किया जिसे कहा जाता है कुल्हाड़ी पर पैर मारना. उन्होंने प्रेस कांफ्रेंस करके कहा कि कश्मीर के हालात बहुत ख़राब है. वहां हिंसा हो रही है, लोग मर रहे हैं. सरकार कुछ छुपा रही है.

उसके बाद हुआ ये कि पाकिस्तान ने राहुल गाँधी के बयान को आधार बनाते हुए यूनाइटेड नेशन को फिर से एक चिट्ठी लिख दी कश्मीर को लेकर. पाकिस्तान की इस हरकत से कांग्रेस में खलबली मच गई है और पार्टी डैमेज कण्ट्रोल करने की कोशिश करने लगी. राहुल गाँधी का ट्वीट इसी डैमेज कण्ट्रोल की कोशिश है. कांग्रेस ने सफाई दी है. कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरेजवाला ने कहा कि पाकिस्तान ने राहुल गांधी के नाम का गलत इस्तेमाल किया, ताकि वह अपने झूठ को सही ठहरा सके.

लेकिन अब तक बहुत देर हो चुकी है. कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाने का कांग्रेस पहले दिन से विरोध कर रही है. उसके बाद पार्टी नेताओं के बयानों के कारण जनता की नज़रों में उसकी छवि राष्ट्रविरोधी पार्टी की बन गई है. डैमेज तो हो चुका है कांग्रेस पार्टी की छवि का. राहुल गाँधी की राजनितिक कैरियर का .अब वो इसे कितना कंट्रोल कर पाते हैं ये तो आने वाले वक़्त में ही पता चलेगा.