राहुल गाँधी ने उठाये अर्थ’व्यवस्था पर सवाल तो पूर्व ग’वर्नर ने दिया ये जवाब

104

देश भर में कोरोना के कारण हा’हाकार मचा हुआ है. तो दूसरी तरफ 1 महीने से लॉक डाउन भी देश में चला रहा है. जिसकी वजह से सरकारी हो या प्राइवेट सेक्टर में काम काज पूरी तरह से ठ’प हो गया है. जिसका  असर देश की अर्थ व्य’वस्था पर पड़ रहा है. और दिन पर दिन GDP ग्रो’थ भी कम हो रही है. जाहिर है कोरोना की वजह से सब कुछ अ’स्त व्य’स्त हो गया है. और यदि जल्द ही कोरोना से मु’क्त नहीं हुए और लॉक डाउन जल्द नहीं खुला तो आने वाले समय में काफी ज्यादा दिक्क’तों का सामना करना पड़ेगा.

इसी बीच अर्थव्य’वस्था को लेकर राहुल गांधी ने रिज़र्व बैंक ऑफ इंडिया के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन से बात कि. जिस पर राजन ने कहा कि इस वक्त गरीबो की मदद करना जरुरी है. जिसके लिए सरकार के करीब 65 हजार करोड़ रुपये खर्च होंगे. इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि वै’श्विक मंच पर भारत एक बड़ी भूमिका निभा सकता है, नए वर्ल्ड ऑर्डर में भारत अपना स्थान बना सकता है. शक्ति’हीन लोगों को शक्ति’शाली नेता अच्छा लगता है, हम एक वि’भाजित समाज के साथ कहीं नहीं पहुंच सकते हैं. हमे आज स्वा’स्थ्य, नौकरी के लिए अच्छी व्य’वस्था करने की जरूरत है.

गौरतलब है कोरोना की वजह से आज GDP की ग्रो’थ बेहतर नहीं है. जिसकी वजह से परे’शानियों का सामना करना पड़ रहा है. और इसी के कारण हा’लात दिन पर दिन ख़रा’ब होते जा रहे है. जरूरत है हा’लातों में सुधर होने की तभी बाकी चीज़े भी बे’हतर हो सकेंगी.