इधर किया ऐलान-ए-जंग, उधर कश्मीर में शुरू हुआ ग्राउंड एक्शन, 5 हिरासत में

368

गुरुवार शाम को आतंकी हमले के बाद से ही सुरक्षाबल ने आस-पास के करीब 15 गांव में बड़ा सर्च ऑपरेशन चलाया था…..इस आतंकी हमले के बाद सुरक्षाबल एक्शन में आ गए हैं….  सुबह से ही सुरक्षाबलों की ओर से पुलवामा के आस-पास के गांवों में सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है… स्थानीय पुलिस ने अभी तक 5 युवकों को हिरासत में ले लिया है… इन युवकों को जम्मू-कश्मीर के दो गांवों से हिरासत में लिया गया है… हालांकि, पुलवामा हमले के बाद घाटी में अभी सेना, सीआरपीएफ और अन्य सुरक्षाबलों के काफिले की आने जाने पर रोक लगा दी गई है…आपको बता दें कि सुबह ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने बयान में साफ तौर पर कहा है कि उन्होंने सुरक्षाबलों को खुली छूट दे दी है… सुरक्षाबल आतंकियों पर एक्शन करने के लिए कुछ भी बड़ा फैसला उठा सकते हैं….

गौरतलब है कि पुलवामा में हुए आतंकी हमले में हमारे  जवान 44 शहीद हुए हैं…. जिसके बाद से ही देश के जवानों में और देश के लोगो में गुस्सा है…. सुबह ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में सुरक्षा मामलों की कैबिनेट समिति की बैठक हुई थी… इस बैठक में फैसला लिया गया है कि पाकिस्तान से मोस्ट फेवर्ड नेशन का दर्जा वापस ले लिया जाएगा…. बैठक के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी अपने बयान में कहा है कि इस हमले से पूरे देश में आक्रोश है… उनका मानना है कि आतंकियों ने बहुत बड़ी गलती कर दी है उन्हें इसकी सजा भुगतनी होगी… इसके अलावा गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कश्मीर पहुँचकर हालात का जायजा लिया..घायल जवानों से मुलाकात की .. और उसके बाद घाटी के बडगाम में राजनाथ सिंह, राज्यपाल मलिक और नॉदर्न कमांड के प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह ने शहीद जवानों की श्रद्धांजलि दी.

भारत के पड़ोसी देश नेपाल, भूटान, अफगानिस्तान और श्रीलंका ने इस घटना के बाद आतंक के ख़िलाफ़ एकजुट होकर लड़ाई लड़ने की बात कही है..इस सबसे बड़े आत्मघाती हमले ने पूरे देश को झकझोर कर रख दिया है…. पाकिस्तान को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अलग-थलग करने का काम शुरू हो गया है…. पुलवामा हमले को लेकर भारत P5 देशों से बात करेगा. P5 में चीन, फ्रांस, रूस, अमेरिका और ब्रिटेन शामिल है… इन देशों के सामने भारत आतंकियों को पनाह देने वाले पाकिस्तान की हकीकत रखेगा.