क्या Pubg गेम होने वाला है सचमुच बंद , जानिये पूरी कहानी

3082

आजकल pubg गेम का खुमार युवाओ के सर चढ़ के बोल रहा है . लडको में सबसे ज्यादा इसका क्रेज है , लेकिन लडकिया की इसमे कम नहीं है . जिसे देखो सब दिन भर pubg खेलते रहते हैं . यहाँ तक की खाना पीना छोड़ कर पढाई लिखाई छोड़ कर पुरे दिन बस pubg pubg और सिर्फ pubg. जून में ये गेम तीसरा सबसे चर्चित गेम था. ये गेम अब PC, एंडॉयड और आईओएस पर उपलब्ध है. Blue Whale Challenge से भारत में कई बच्चे की जानें गईं. ये गेम स्टेप बाय स्टेप खेलने के बाद एक स्टेप पर सुसाइड के लिए उकसाता था . इस की वजह से कई जानें भी गईं.

ऐसे खेला जाता है PUBG:
PUBG मार्च 2017 में जारी हुआ था। ये गेम एक जापानी थ्रिलर फिल्म ‘बैटल रोयाल’ से प्रभावित होकर बनाया गया जिसमें सरकार छात्रों के एक ग्रुप को जबरन मौत से लड़ने भेज देती है।
पैराशूट के जरिए 100 प्लेयर्स को एक आईलैंड पर उतारा जाता है. जहां प्लेयर्स को बंदूकें ढूंढनी पड़ती है और दुश्मनों को मारना होता है. आखिर में जो बचता है वो विनर होता है. 4 लोग ग्रुप बनाकर भी खेल सकते हैं, जो आखिर तक पहुंच गए तो सभी विनर कहलाते हैं. इस गेम को डाउनलोड करने के लिए 2 जीबी स्पेस होना जरूरी है. क्योंकि गेम फोन का काफी स्पेस लेता है.

Delhi की एक खबर आपको याद होगी की एक 19 साल के बच्चे ने अपने माँ पापा और बहन को जान से मार दिया और रीज़न दिया गया pubg को क्योकि उस छोटे बच्चे के दोस्त ने बोला की उसके माँ पापा उसको दांते थे दिन भर pubg खेलते रहने के लिए . इसलिए उसने ऐसा किया . लेकिन स्कूल से पता चला की ये बच्चे के कम मार्क्स आने का रीज़न और बहन को ज्यादा attention मिलता था इसलिए बच्चे ने ऐसा किया .

वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन (WHO) के मुताबिक, गेम खेलने से मानसिक स्वास्थ्य की स्थिति खराब हो जाती है. PlayerUnknown’s Battlegrounds (PUBG) को 5 करोड़ से ज्यादा बार
डाउनलोड किया जा चुका है. लेकिन इसकी लत भी काफी खतरनाक है. hindustantimes की खबर के मुताबिक, PUBG खेलने की लत एक 15 साल का बच्चा बीमार पड़ गया है.
उसका इलाज बेंगलुरु के अस्पताल में चल रहा है.

उसके बाद खबरे आई की शिक्षा विभाग ने आदेश जारी किया है कि बच्‍चों में पनप रही पब जी गेम खेलने की आदत को छुड़ाया जाए.शिक्षा विभाग ने सभी प्राथमिक जिला शिक्षा अधिकारियों को आदेश जारी किया है. इसको लेकर स्कूल में जागरुकता अभियान भी चलाया जाएगा. ये भी खबर आरही थी की बता दें कि पबजी मोबाइल पर खेला जाने वाला एक पॉपुलर गेम है. इसके चलते बच्‍चे पढ़ाई से भटक रहे हैं. कुछ दिन पहले ही खबर आई थी कि महाराष्‍ट्र सरकार ने गेम पर रोक लगा दी है. हालांकि वह सिर्फ अफवाह निकली. लेकिन गुजरात सरकार ने बाकायदा नोटिस जारी कर इस गेम पर रोक लगाई है. कुछ दिन पहले तक व्‍लू व्‍हेल गेम के चलते भी बच्‍चों की जानें गई थीं. जिस पर पाबंदी लगाई गई.