बजट से इन लोगों को होने जा रहा है सीधा फायदा, विपक्ष के उड़े हुए हैं होश!

397

मोदी सरकार अपने इस कार्यकाल का अंतिम बजट सदन में पेश कर दिया है। इस बजट से जहां माध्यम वर्गीय लोगों में खुशहाली है वहीं ….के लिए सरकार ने पेंशन का बड़ा एलान किया है। सरकार की इस योजना से उन गरीबों को भी पेंशन का लाभ मिलेगा जो सिर्फ अपनी जीविका के लिये पैसे कमा पाते हैं। आइये आपको बताते हैं कि आखिर क्या है सरकार की प्रधानमंत्री श्रम-योगी मानधन योजना, कैसे लोगो को मिलेगा इसका फायदा…..
‘प्रधानमंत्री श्रम-योगी मानधन योजना’ की सबसे ख़ास बात यह है कि 18 वर्ष से अधिक आयु के व्यक्ति अगर हर महीने 55 रूपये जमा करते हैं तो आपकी आयु 60 साल होने पर आपको 3000 रूपये प्रतिमाह पेंशन की तौर पर मिलेंगे
29 साल की उम्र में इस पेंशन योजना से जुड़ने वाले असंगठित क्षेत्र के कामगार को केवल 100 रुपये हर महीने 60 वर्ष की उम्र तक निवेश करना होगा. सबसे ख़ास बात तो यह है कि हर महीने निवेशक जितना इस स्कीम में जमा करेगा उतना ही सरकार की ओर से खाते में हर महीने राशि जमा की जाएगी.


बजट पेश करने के दौरान वित्त मंत्री पियूष गोयल ने कहा कि ‘भारत के सकल घरेलू उत्‍पाद (GDP) का आधा हिस्‍सा असंगठित क्षेत्र के उन 42 करोड़ कामगारों के पसीने और कठोर परिश्रम से आता है, जो रेहड़ी-पटरी वाले, रिक्‍शा चालक, निर्माण मजदूर, कूड़ा बीनने वाले, कृषि कामगार, बीड़ी बनाने वाले, हथकरघा कामगार, चमड़ा कामगार और इसी प्रकार के अनेक अन्‍य कामों में लगे हुए हैं. उनको इस स्कीम का फायदा मिलेगा.’


हालाँकि कम से कम 18 साल की उम्र से इस योजना में निवेश किया जा सकता है. और अधिकतम 29 साल की उम्र तक निवेश किया जा सकता है. इस योजना के दायरे में वो व्यक्ति आएगा जो असंगठित क्षेत्र में काम करता हो और उसकी मासिक आय ज्यादा से ज्यादा 15,000 रुपये तक ही हो… पियूष गोयल ने यह भी उम्मीद जताई है अगले 5 वर्ष में असंगठित क्षेत्र के कम से कम 10 करोड़ श्रमिकों और कामगारों को प्रधानमंत्री श्रम-योगी मानधन योजना का लाभ मिलेगा..
इस योजना से पहले भी मोदी सरकार द्वारा दो अन्य योजनायें ‘अटल पेंशन योजना’ और ‘प्रधानमंत्री जीवन ज्‍योति योजना’ नाम चल रही हैं, जिसका लोगों का सीधा फायदा पहुँच रहा हैं. अब मोदी सरकार 15000 से कम कमाने वालों के लिए प्रधानमंत्री श्रम-योगी मानधन योजना लेकर आई है जिससे गरीबों को सीधा सीधा फायदा पहुंचेगा!

मोदी सरकार के इस बजट को लेकर देश में चर्चा जोर-शोर पर हो रही हैं. विपक्ष बजट पर कुछ भी सीधे तौर पर बोलने से बचता नजर आ रहा है लेकिन सोशल मीडिया को घेरने के चक्कर में कांग्रेस खुद लोगों के निशाने पर आ गयी. दरअसल सरकार ने किसानों को साल में 6 हजार रूपये की मदद पहुंचाने की बात कही है. जिससे किसान के सामने कर्जमाफी की समस्या ना रहे और किसानो को खेती करने में सही समय पर मदद भी मिल सके.

दरअसल इसी साल लोकसभा चुनाव होने वाले हैं, जिसे ध्यान में रखते हुए विपक्ष के होश उड़े हुए हैं और मोदी सरकार का यह बचट आम लोगों के लिए काफी फायदेमंद हैं. इससे लोग मोदी सरकार के प्रति आकर्षित जरुर होंगे. इसी से विपक्ष घबराया हुआ है कि उसे लोकसभा चुनाव में भारी नुकसान की उम्मीद है.