प्रधानमंत्री मोदी ने केरल के पलक्कड़ में चुनावी सभा को किया संबोधित, एलडीएफ और यूडीएफ पर जम कर साधा निशाना…

636

चुनाव को देखते हुए केरल में भी प्रचार प्रसार तेजी से प्रारम्भ हो गये है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 30 मार्च आज यानि मंगलवार को केरल विधानसभा चुनाव के पलक्कड़ में मेट्रो मैन ई श्रीधरन के लिए चुनावी सभा को संबोधित किया. प्रधानमंत्री मोदी एलडीएफ और यूडीएफ पर जमकर साधा निशाना रैली में पीएम मोदी ने कहा कि केरल की राजनीति का सालों तक रखा गया सबसे खराब सीक्रेट UDF और LDF का दोस्ताना समझौता था. पहली बार मतदान करने वाला युवा पूछ रहा है कि ये मैच फिक्सिंग क्या है ? 5 साल एक लूटता और 5 साल दूसरा लूटता है. लोग देख रहे हैं कि कैसे UDF और LDF लोगों को गुमराह करते हैं. उन्होंने कहा यूडीएफ ने तो सूर्य की रोशनी तक को नहीं छोड़ा.

केरल विधानसभा चुनाव को ध्यान में रखते हुए राज्य में भजपा की पहली रैली को संबोधित करते हुए नरेंद्र मोदी ने भगवान यीशु की एक कहानी का जिक्र करते हुए कहा कि जिस प्रकार चांदी के कुछ टुकड़ों के लिए युदस ने ईसा मसीह को धोखा दिया ठीक उसी प्रकार से एलडीएफ ने सोने के कुछ टुकड़ों के लिए केरल को भी धोखा दिया. आगे उन्होंने कहा कि पलक्कड़ का भारतीय जनता पार्टी से विशेष सम्बन्ध रहा है. प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि मै आज भारतीय जनता पार्टी के विजन को आप सब लोगों से परिचित कराने के लिए यहाँ आया हूँ.

प्रधानमंत्री मोदी ने अपने संबोंधन में एलडीएफ और यूडीएफ को चेतावनी भी दी. उन्होंने कहा कि मै एलडीएफ और यूडीएफ को बता दूं कि अगर उन्होंने हमारी संस्कृति को गाली दी तो हम चुप नहीं रहेंगे. उन्होंने राज्य इकाई के अध्यक्ष सुरेंन्द्रन का जिक्र करते हुए कहा कि केरल सरकार ने उन्हें गिरफ्तार करवाया और उनके साथ बुरा बर्ताव किया मै पूछना चाहता हूँ की उनका अपराध क्या था? यही कि उन्होंने केरल की परम्पराओं के लिए बात की थी.

पीएम मोदी ने आगे ये भी कहा कि ये साफ तौर पर देख सकते है कि UDF और LDF के दो मकसद हैं. वोट बैंक की राजनीति को आगे बढ़ाना और जेब भरना हमारी सरकार कृषि के विकास और किसानों के कल्याण के लिए काम कर रही है. उन्होंने कहा कई सालों तक सरकारों ने एमएसपी बढ़ाने का वादा किया लेकिन हमारी सरकार को किसानों के लिए एमएसपी बढ़ाने का सम्मान मिला.