82 दिनों बाद बढे पेट्रोल और डीजल के दाम, जानिये कितने पैसे खर्च करने पड़ेंगे अब पेट्रोल और डीजल के लिए

491

लॉकडाउन की वजह से पेट्रोल और डीजल की खपत देश में बेहद कम हो गई थी. लेकिन अब जब देश को अनलॉक करने की तैयारियां शुरू हो गई है. कई जगह लॉकडाउन में ढील मिलनी शुरू हो गई है. कल से मंदिर और शॉपिंग कॉम्प्लेक्स भी खुल जायेंगे. ऐसे में पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ गए. करीब 82 दिनों बाद पेट्रोल और डीजल के दाम बढाए गए हैं. बढ़ी हुई कीमतें आज रात 12 बजे से लागू हो जाएँगी.

देश में पेट्रोल और डीजल के दाम में 60 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी की गई. इस बढ़ोतरी के बाद राजधानी दिल्ली में पेट्रोल के दाम 71.86 रुपये हो गई. जबकि डीजल के दाम 69.39 रुपये से बढ़कर 69.99 रुपये हो गए हैं. पहले हर दिन के हिसाब से तेल कम्पनियाँ पेट्रोल और डीजल के दाम बढाते या घटाते थे. लेकिन कोरोना संकट और लॉकडाउन के दौरान तेल की कीमतें स्थिर हो गई थी. अब जबकि देश अनलॉक हो रहा है तो तेल कंपनियों से फिर से रोज के हिसाब से तेल की कीमतों का निर्धारण शुरू कर दिया है.

कोरोना संकट के कारण जब अंतरराष्ट्रीय बाज़ार में तेल की कीमतें बेहद गिर गई तब सरकार ने पेट्रोल और डीजल की एक्साइज ड्यूटी पर प्रति लीटर 3 रुपये की वृद्धि की थी. 6 मई को सरकार ने पेट्रोल पर 10 रुपये और डीजल पर 13 रुपये एक्साइज ड्यूटी बढ़ाई थी. ल्र्किन कोरोना संकट के कारण तेल कंपनियों ने इसका बोझ जनता के जेब पर नहीं डाला था. मुंबई और कोलकाता में पेट्रोल की कीमतें 59 पैसे बढ़ाई गई है. मुंबई में पेट्रोल अब 78.91 रुपये और कोलकाता में 73.89 रुपये प्रति लीटर मिलेगा. चेन्नई में 53 पैसे की बढ़ोतरी के साथ पेट्रोल की दर 76.07 रुपये हो गई है.