प्रियंका के दौरे से पहले अमेठी में लगे पोस्टर, क्या खूब ठगती हो, क्यों 5 साल बाद ही दिखती हो’

481

कांग्रेस ने अपनी जीत का परचम लहराने के लिए प्रियंका  गांधी वाड्रा को चुनावी मैदान में उतारा है.ताकि आने वाले लोकसभा चुनाव में कांग्रेस अपनी पकड़ बना सके..जैसे जैसे चुनावों का समय करीब आ रहा है ऐसे में राजनीति पार्टियों ने अपने दौरे शुरू कर दिए है.. आज कल कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा आज से उत्तर प्रदेश के चुनावी दौरे पर हैं..आज वो अमेठी के दौरे पर जायेंगी, अमेठी में कार्यकर्ताओं और लोगों के दिल का हाल जानेंगी..लेकिन प्रियंका गांधी के अमेठी पहुंचने से पहले वहां पोस्टर वार शुरू हो गया..पहले हम आपको उन पोस्टर कि झलक दिखाते है और बताते है कि क्या लिखा गया उन पोस्टर पे प्रियंका गाँधी के लिए एक पोस्टर है जिसमें लिखा है, ‘क्या खूब ठगती हो, क्यों पांच साल बाद ही अमेठी दिखती हो. 60 सालों का हिसाब दो.’ इसके साथ ही, एक दुसरे पोस्टर पर लिखा है ‘देख चुनाव पहन ली सारी, नहीं चलेगी ये होशियारी’ लिखे हुए पोस्टर मुसाफिरखाना रोड पर लगाए गए हैं जहाँ वो मेरा बूथ, मेरा गौरव कार्यक्रम में हिस्सा लेंगी.

एक अन्य पोस्टर पर लिखा गया है कि ‘मई 2014 में बहुत किया था वादा, 5 साल बाद क्या लेकर आई हो फिर। अमेठी को छलने का इरादा-60 साल का हिसाब दो। आपको एक पोस्टर पर एक सपा नेता कि फोटो दिख रही होगी..और कहा जा रहा है कि ये पोस्टर इन्होने ही लगवाए थे..लेकिन जिस सपा नेता का ये फोटो पोस्टर पर लगा है उन्होंने इस कहा कि उन्होंने इसे कोई भी पोस्टर नहीं लगवाए है. कुछ लोग हमको बदनाम करने के लिए प्रियंका गांधी के विरोध में पोस्टर लगाए हैं. ये पूरी तरह से गलत है, मैं इसका खंडन करता हूं. ये एक साजिश है और कुछ नहीं.. वैसे ये कोई पहली बार नहीं जब प्रियंका वाड्रा के खिलाफ ऐसे पोस्टर्स लगा कर लोगों ने अपना गुस्सा दिखाया हो इससे पहले भी सोनिया गाँधी के गढ़ कहे जाने वाले रायबरेली में कई जगहों पर प्रियंका वाड्रा के लापता होने के पोस्टर लगाए गए थे, इन पोस्टर्स में प्रियंका को इमोशनल ब्लैकमेलर बताया था .

इन पोस्टर में लिखा था , अंखियां थक गईं, पथ निहार, आजा रे परदेशी बस एक बार…मैडम प्रियंका वाड्रा लापता, इमोनेशनल ब्लैकमेलर लिखा है। इसके अलावा एक पोस्टर में  प्रियंका गांधी के ना आने पर तंज कसते हुए लिखा गया है कि नवरात्र, दुर्गा पूजा, दशहरा में तो नहीं दिखाई दी। अब क्या ईद में दिखेंगे मैडम वाड्रा।

वैसे अमेठी में कांग्रेस के साथ पोस्टर वॉर कोई नए बात नहीं है, आपको याद ही होगा कि कुछ दिनों पहले ही आतंकी मशूद अजहर को मशूद अजहर जी कह कर संबोधित किया था…वो अपने ही बयान के बाद बुरी तरह फंस गये थे..उसके बाद चरों तरफ से बस राहुल गाँधी के लिए विरोध के शुर उठ रहे थे. इसके साथ साथ कांग्रेस के गढ़ कहे जाने वाले अमेठी में भी राहुल गाँधी का विरोध लोग जोरों से कर रहे है क्यों की वह के लोगों को भी राहुल गाँधी का मशूद अजहर जैसे आतंकी को मशूद अजहर जी कहना कुछ भय नहीं है …लोगो ने अपना गुस्सा दिखाते हुए राहुल गाँधी के प्रति विरोध प्रदर्शन करते हुए राहुल गाँधी और मशूद अजहर के पोस्टर पोस्टर लगाकर लिखा कि आतंकवादी को ‘जी’ कहे ऐसा सांसद अमेठी को नहीं चाहिए.. साथ ही देश के पीएम का जो अपमान करे, आतंकवादी का सम्मान करे ऐसा सांसद अमेठी को मंजूर नहीं.. राहुल गांधी मुर्दाबाद। आतंकवादी मुर्दाबाद

वैसे ये बयान बाजी और ये पोस्टर बाज़ी तो चलती रहेगी क्यों की चुनाव सिर पर है ..पर आखिरी फैसला तो हमारी जनता यानि आपका ही होगा जो निर्णयक होगा कि 2019 में किस की सरकार बनेगी.