इस बिहारी नेता ने कहा- “योगी की छाती पर चढ़ कर हड्डियाँ तोड़ दूंगा”

1642

एनआरसी और सीएए को लेकर बवाल शांत होने का नाम नही ले रहा है. सभी विपक्षी पार्टियाँ सत्ता पर काबिज मोदी करकार को घेरने मे जुटी है. कुछ विपक्षी पार्टियों के नेता को तो अपनी जुबान पर भी किसी प्रकार का कोई कंट्रोल नही रहा है. जिसको देखो उसकी जुबान फिसल जाती है. समझ नही आ रहा है कि भारत के राजनेताओं को इस तरह की बयान बाजी करके भारत की राजनीति का स्तर गिरता चला जा रहा है.

बिहार की राजनीति की बात करें तो वहां के राजनेता चाहे वो किसी पार्टी के हों उनके बोल बिगड़ ही जाते हैं.बात करते हैं बिहार के जाने-माने नेता जो जन अधिकार पार्टी के प्रमुख पप्पू यादव  नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) और नैशनल रजिस्टर ऑफ सिटिजंस एनआरसी को लेकर रविवार को एक जनसभा को संबोधित कर रहे थे, लोगों को संबोधित करने के दौरान पप्पू यादव ने बीती दिन उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को धमकी तक दे डाली.  योगी आदित्यनाथ के ‘बदला’ वाले बयान पर पप्पू यादव ने कहा कि “अगर एक ही प्रदेश में पैदा हुए होते तो सीने पर चढ़कर 32 हड्डियां तोड़ देता”.

राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव ने कहा, ‘योगी उत्तर प्रदेश में हैं और हम बिहार में हैं, यही गलती हो गई. यदि हम दोनों एक ही राज्य में पैदा हुए होते तो हम इनके सीने पर चढ़कर 32 हड्डियां तोड़ देते. पप्पू यादव ने आगे  कहा हैं कि बदला लेंगे, क्या इन्हीं को बदला लेना आता है. तुम्हीं तो शेर पर सवाशेर हो. उन्होने “योगी” , से कहा कि  हिटलर का इतिहास मिट गया तो तुम क्या चीज हो”.

पप्पू यादव ने आगे कहा, ‘आप लोगों से जब कागज मांगा जाए तो कह दीजिएगा कि बह गया क्योंकि हम लोग बाढ़ प्रभावित क्षेत्र में रहते हैं. अधिकारी कहेंगे कि कागज पर जानकारी भर दो तो कह दीजिएगा का रतौंधी आ गई. कहेंगे कि सुन लीजिए तो बोलिएगा कि गूंगे हो गए. फिर कहेंगे कि सुन लीजिए तो बोलिएगा कि बहरे हो गए। किसी भी चीज पर दस्तखत मत कीजिएगा.”