POK को लेकर भारत सरकार का एक्शन प्लान शुरू, उठाया ऐसा कदम कि तिलमिला जाएगा पाकिस्तान

5673

5 अगस्त 2019 को जम्मू और कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाने के प्रस्ताव पर जब संसद में बहस चल रही थी तो गृह मंत्री अमित शाह ने कहा था कि जब भी वो कश्मीर की बात करते हैं तो उसके अन्दर पाक अधिकृत कश्मीर भी आता है और चीन के कब्जे वाला कश्मीर भी. मोदी सरकार की POK पर क्या रणनीति है ये किसी से छुपा नहीं रह गया. जब कश्मीर से आर्टिकल 370 हटा कर राज्य को दो हिस्सों में बांटा गया था तब ही ये अंदाजा हो गया था कि मोदी सरकार अपने दुसरे कार्यकाल पर कश्मीर पर बहुत ही आक्रामक रणनीति के साथ आगे बढ़ने वाली है. अब मोदी सरकार ने एक ऐसा कदम उठाया है जिसने ये इशारा किया है कि मोदी सरकार POK पर कुछ बड़ा करने वाली है.

गिलगित – बाल्टिस्तान और मुज़फ्फराबाद पर पाकिस्तान का कब्ज़ा है. बीते दिनों पाकिस्तान के सुप्रीम कोर्ट ने गिलगित और बाल्टिस्तान में चुनाव कराने का आदेश दिया था. जिस पर भारत सरकार ने कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा था कि पाकिस्तान ने उस इलाके पर जबरन कब्ज़ा किया था इसलिए उसकी सरकार या उसकी कोर्ट का उस क्षेत्र के बारे में कोई भी आदेश देने का कोई अधिकार नहीं. अब भारत सरकार ने जवाबी कारवाई भी शुरू कर दी है. भारत मौसम विज्ञान विभाग ने जम्मू और कश्मीर का वेदर फोरकास्ट रिलीज किया. लेकिन इसमें एक बड़ा बदलाव किया गया. मौसम विभाग ने जम्मू एंड कश्मीर के अपने मौसम संबंधी सब-डिविजन का उल्लेख ‘जम्मू और कश्मीर, लद्दाख, गिलगित-बाल्टिस्तान और मुजफ्फराबाद’ के रूप में करना शुरू कर दिया है.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक़ मौसम विभाग के अधिकारियों ने भी इस बदलाव की पुष्टि की है. ये न सिर्फ जम्मू कश्मीर और लद्दाख की बदली हुई भौगोलिक परिस्थितियों को दर्शाता है बल्कि पाकिस्तान को एक बहुत बड़ा सन्देश भी है. भारत ने पाकिस्तान के साफ़ साफ़ सन्देश दे दिया है कि गिलगित – बाल्टिस्तान समेत पूरा POK भारत का अभिन्न हिस्सा है और भारत ने इसपर अपना रुख और भविष्य की रणनीति को साफ़ कर दिया है. ये भी तय है कि पाकिस्तान इससे जरूर तिलमिला जाएगा.