चाइनीज ऐप बैन करने के बाद आज देश को संबोधित करेंगे पीएम मोदी, चीन के खिलाफ कर सकते हैं ये ऐलान

66

मोदी सरकार ने सोमवार की रात चीन के खिलाफ डिजिटल स्ट्राइक करते हुए 59 चाइनीज ऐप्स को बैन कर दिया. इसमें यूसी ब्राउजर, क्लब फैक्ट्री, कैम स्कैनर और टिक टॉक जैसे पॉपुलर ऐप्स शामिल हैं. सरकार ने सर्कुलर जारी कर इन 59 ऐप्स की सूची जारी की. भारत में चाइनीज ऐप्स काफी लोकप्रिय हैं और लगभग हर मोबाइल में पाए जाते हैं. भारत चीन के लिए सबसे बड़ा बाज़ार है. ऐसे में चीन को आर्थिक चोट देने के लिए मोदी सरकार ने चीन पर ये डिजिटल स्ट्राइक की. चाइनीज ऐप्स बैन करने के कुछ ही देर बार PMO ने जानकारी दी कि पीएम मोदी मंगलवार 30 जून को दोपहर चार बजे देश को संबोधित करेंगे.

पीएम मोदी के संबोधन की बात सामने आते ही लोगों में तरह तरह की अटकलें लगने लगी. सोशल मीडिया पर चर्चाओं का बाज़ार गर्म हो गया. देश में जब से कोरोना वायरस का संकट आया है, तब से अबतक प्रधानमंत्री ने कई अहम मौकों पर देश को संबोधित किया है. आज होने वाला उनका संबोधन ये छठा होगा. लेकिन इस बार देश के सामने कोरोना के अलावा सीमा पर चीन का संकट भी है. इसलिए अटकलें लगाईं जा रही है कि पीएम मोदी चीन को लेकर भी कोई घोषणा कर सकते हैं. मद्स्लन चीनी सामानों के बहिष्कार का ऐलान. हालाँकि इससे पहले भी कई बार पीएम मोदी ने स्वदेशी की बात की है. बिओना चीनी सामानों के बहिष्कार की बात किये उन्होंने लोगों को लोकल के लिए वोकल होने को कहा.

जब से चीन के साथ तनाव हुआ है तब से मंत्रालयों और राज्य सरकारों ने कदम उठाते हुए कई चीनी कंपनियों के टेंडर रद्द कर दिए. रेलवे ने 431 करोड़ का एक ठेका रद्द कर दिया जिसे एक चीनी कंपनी को दिया गया था तो दूरसंचार मंत्रालय ने भी बीएसएनएल और एमटीएनएल को साफ़ आदेश दिया कि चीनी कंपनियों के त्रेंदर रद्द किये जाए और चीनी उपकरणों पर निर्भरता कम की जाए. उम्मीद है कि आज के संबोधन में पीएम मोदी कुछ ऐसा ही ऐलान कर सकते हैं. या फिर चीन से आयात होने वाली चीजों पर आयात शुल्क बढाया जा सकता है.