पीएम मोदी ने कहा कि हर भारतीय के मन में एक ही सवाल, ‘काश काश…’

219

पीएम मोदी ने इस सं’कट के वक़्त में अपने देश के लिए कई कड़े कदम उठाये हैं ताकि देश को इस सं’कट से बचाया जा सके. पीएम मोदी ने देश की जनता से अपील की थी कि वो अब लोकल फॉर वोकल बनने की तरफ कदम बढ़ाएं. इस बात का जिक्र पीएम मोदी करते रहते हैं.पीएम मोदी ने कोविड-19  को लेकर कहा कि पूरी दुनिया इस वायरस से लड़ रही हैं और भारत भी लड़ रह हैं. पीएम मोदी ने कहा कि अब हर देशवासी इस आपदा को अवसर में बदलने की इच्छाशक्ति के साथ काम कर रहा हैं. पीएम मोदी ने देशवासियों और उद्योग जगत से अपील की जिस क्षेत्र में भारत पिछड़ा हुआ है वहां आत्मनिर्भर बनने का यही मौका है. उन्होंने कहा कि आज हमारे मन में एक बड़ा काश बन रहा है.

पीएम मोदी ने इंडियन चैंबर ऑफ कॉमर्स में कहा कि ‘आज हर भारतीय के जेहन में यह सवाल होगा कि काश हम मेडिकल उपकरण बनाने के क्षेत्र मे आत्मनिर्भर हो जाएं. काश हम कोयला और खनिज सेक्टर में आत्मनिर्भर हो जाएं.’ पीएम मोदी ने आगे भी कहा कि काश भारत खाने वाले तेल के उत्पादन में भी आगे बढ़े. काश देश इलेक्ट्रॉनिक मैनिफैक्चर के क्षेत्र में काश भारत आत्मनिर्भर हो जाए.

पीएम मोदी ने देश को आत्मनिर्भर बनने के लिए काफी ज्यादा प्रेरित किया है और उन्होंने कहा कि चिप्स,सोलर पैनल, बैट्री के निर्माण में भारत अपनी पताका लहराए. उड्यन के क्षेत्र में भारत आत्मनिर्भर बने. तभी हम आगे बढ़ेंगे. उन्होंने कहा कि कैसे कितने काश है जो हर भारतवासियों को झकझोरते रहे हैं. उन्होंने कहा कि कोरोना संकट में आत्मनिर्भर होने के लिए देश के लोगों को और एक कदम आगे बढ़ा दिया हैं. हम इसे सबक लेना चाहिए और इस सबक से ही निकला है आत्मनिर्भर भारत अभियान .पीएम मोदी ने कहा कि हम सब देशवासियों को इस महामारी से मिलाकर लड़ना होगा और हम लोग कोरोना वायरस को जरुर हराएंगे. उन्होंने आगे कहा कि हम इस लड़ाई में बड़ी शिद्दत के साथ लगे हुए हैं और हमे इस आपदा को अवसर में बदले का एक अच्छा मौका मिला हैं.