प्रधानमंत्री मोदी की ये तस्वीर आपको भी हैरान कर देंगी, देखिये ख़ास तस्वीरें

707

26 जुलाई को पूरा देश कारगिल विजय दिवस के रूप में मना रहा है. इसी दिन भारतीय सेना अपनी शौर्य का परिचय देते हुए पाकिस्तानी घुसपैठी सेना को पीछे हटने पर मजबूर कर दिया था. प्रधानमंत्री मोदी, राष्ट्रपति, सेना अध्यक्ष के साथ कई लोगों ने इस मौके पर शहीद जवानों को याद किया. प्रधानमंत्री मोदी ने भी एक तस्वीर शेयर करते हुए जवानों की शहादत को याद किया.

प्रधानमंत्री मोदी ने विजय दिवस पर लिखा कि ‘कारगिल विजय दिवस पर मां भारती के सभी वीर सपूतों का मैं हृदय से वंदन करता हूं। यह दिवस हमें अपने सैनिकों के साहस, शौर्य और समर्पण की याद दिलाता है। इस अवसर पर उन पराक्रमी योद्धाओं को मेरी विनम्र श्रद्धांजलि, जिन्होंने मातृभूमि की रक्षा में अपना सर्वस्व न्‍यौछावर कर दिया। जय हिंद!‘ इसके साथ ही कारगिल के जवानों से मुलाक़ात की तस्वीर को साझा करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने लिखा कि ‘साल 1999 में करगिल युद्ध के दौरान मुझे करगिल जाने और अपने देश के वीर सिपाहियों के साथ एकजुटता दिखाने का सुनहरा मौका मिला था। यह वो समय था, जब मैं जम्मू-कश्मीर और हिमाचल प्रदेश में अपनी पार्टी के लिए काम कर रहा था। करगिल की यात्रा और सैनिकों के साथ बातचीत के अनुभव को मैं कभी भुला नहीं पाऊंगा।’

प्रधानमंत्री मोदी को इस बात के लिए पूरा श्रेय दिया जाना चाहिए कि उनकी सरकार के पहले कार्यकाल में ही युद्ध स्मारक का निर्माण किया गया। इसी साल 25 फरवरी को इसका औपचारिक उद्घाटन हुआ था। आपको बता दें कि स्वतंत्र भारत में ऐसे युद्ध स्मारक की मांग तबसे हो रही थी जब सत्ता के शीर्ष पर नेहरू विराजमान थे लेकिन ये मांग अटकी हुई थी.

इसी के साथ प्रधानमंत्री मोदी ने एक ऑडियो टेप जारी करते कहा कि ‘करगिल के विजय दिवस पर शौर्य को सलामी 20 साल पहले करगिल में विजय का वो दिन उनकी याद में, जो जंग से लौटकर घर ना आए, करगिल में भारतीय फतह के गर्व का वो लम्हा जय हिंद, जय भारत, जय सेना, जय जय सैनिक…! प्रधानमंत्री मोदी अक्सर जवानों से मुलाकत कर उनका हौसला बढाते हैं. दीपावली के मौके पर भी प्रधानमंत्री मोदी अक्सर जवानों के बीच में ही होते हैं.