राज्यों ने 30 अप्रैल तक बढ़ाया लॉकडाउन लेकिन पीएम मोदी ने 3 मई तक बढ़ाने के लिए क्यों लिया फैसला, जानिए वजह

21 दिनों के लॉकडाउन ख़त्म होने के आखिरी दिन पीएम मोदी ने देश को संबोधित करते हुए ऐलान किया कि लॉकडाउन 3 मई तक लागू रहेगा. उन्होंने कहा कि भारत ने सही समय पर लॉकडाउन का ऐलान किया जिस कारण भारत की स्थिति अन्य देशों के मुकाबले काफी बेहतर रही नही तो परिणाम और भी भयावह हो सकते थे. उन्होंने कहा कि ये लड़ाई अभी ख़त्म नहीं हुई है. अभी और सतर्क रहने की जरूरत है इसलिए लॉकडाउन को 3 मई तक बढाया जा रहा है.

जानकारी के लिए बता दें देश में लगातार बढ़ रहे कोरोना के प्रकोप को देखते हुए ये कयास तो पहले से ही लगाये जा रहे थे कि लॉकडाउन हटेगा तो नहीं बल्कि इसे और आगे बढ़ाया जायेगा. वहीं कई राज्य सरकार तो अपने राज्यों में 30 अप्रैल तक लॉकडाउन को आगे बढ़ाने की घोषणा कर चुकी थी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सभी मुख्यमंत्रियों के साथ हुई बैठक के बाद ही अरविंद केजरीवाल ने संकेत दे दिए थे कि पीएम मोदी लॉकडाउन आगे बढ़ाने को लेकर फैसला ले चुके हैं.

पीएम मोदी ने उस वक्त लोगों को हैरान कर दिया जब कई राज्य 30 अप्रैल तक लॉकडाउन बढ़ाने का फैसला ले चुके थे लेकिन उन्होंने 3 मई तक के लिए इसे आगे बढ़ाने की घोषणा की है. आखिर इसके पीछे की वजह जो है वो हम आपको बताते हैं कि क्यों पीएम मोदी ने 3 मई तक लॉकडाउन को बढ़ाने का फैसला लिया.

गौरतलब है कि सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार इसके पीछे की वजह ये है कि 30 अप्रैल तक के लिए तो कई राज्य पहले ही फ़ैसले ले चुके थे. 1 मई को सरकारी छुट्टी है, वहीं 2 मई को शनिवार है और 3 मई को रविवार. इन्ही वजह के चलते 3 मई तक लॉकडाउन बढ़ाने का फैसला लिया गया है.