मुख्यमंत्रियों से बात कर कोरोना के चलते आज पीएम मोदी ले सकते हैं ये बड़ा फैसला !

देश में कोरोना का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है. हर दिन सैंकड़ों की संख्या में मरीज बढ़ते जा रहे हैं. 21 दिन के चल रहे लॉकडाउन के बावजूद भी हालात हर दिन बिगड़ रहे हैं. अगर समय के चलते पीएम मोदी ने लॉकडाउन का फैसला नही लिया होता तो आज हालात और भी ज्यादा बिगड़ रहे होते. अभी की स्थिति को देखते हुए यही कयास लगाए जा रहे हैं कि लॉकडाउन को और भी आगे बढ़ाया जा सकता है. इसी बीच एक बड़ी खबर है.

जानकारी के लिए बता दें कोरोना के लगातार बढ़ रहे प्रकोप के चलते अब भारत में मरीजों की संख्या के ग्राफ में काफी तेजी आ रही है. अब हर दिन करीब हजार मरीज बढ़ रहे हैं. इस स्थिति को देखते हुए शनिवार को पीएम मोदी ने सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बातचीत करने का निर्णय लिया है. इस दौरान देशव्यापी लॉकडाउन को आगे बढ़ाने के चलते पीएम मोदी एक बार फिर से बड़ा फैसला ले सकते हैं.

वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये होने वाली चर्चा में इस बात पर कोई फैसला लिया जा सकता है कि कोरोना वायरस को फैलने से किस तरह रोका जाए जिससे अपने देश के लोगों को बचाया जा सके. वहीं 21 दिन के चल रहे देशव्यापी लॉकडाउन को आगे बढ़ाया जाए या नही. पीएम मोदी की ये मीटिंग उस समय होने जा रही है कि जब कई राज्यों के मुख्यमंत्री खुद ये कह चुके हैं कि 21 दिनों के देशव्यापी लॉकडाउन को और आगे बढ़ाया जाए.

गौरतलब है कि बुधवार को लोकसभा एवं राज्यसभा में विपक्ष समेत विभिन्न राजनीतिक दलों के नेताओं से पीएम मोदी ने कहा यही कहा था कि कोरोना वायरस के कारण देशव्यापी लॉकडाउन को एक साथ नही हटाया जायेगा. जिससे ये साफ़ हो गया था कि पीएम मोदी के पास लॉकडाउन को जारी रखने के अलावा कोई दूसरा चारा नहीं है. उन्होंने इसी बात पर जोर दिया था कि देश के हर नागरिक के जीवन को बचाना सरकार की पहली प्राथमिकता है. इन बातों को ध्यान में कहते हुए यही कहा जा रहा है कि शनिवार को सभी मुख्यमंत्रियों से मीटिंग के बाद पीएम मोदी 30 अप्रैल तक के लिए लॉकडाउन को आगे बढ़ा सकते हैं.