देश ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया में कोरोना वायरस के चलते हाहाकार मचा हुआ है. पूरी दुनिया में लगातार बढ़ रही कोरोना के मरीजों की संख्या ने सभी को हैरान कर दिया है. भारत सरकार भी इससे लड़ने के लिए पूरा प्रयास कर रही है और हर दिन कुछ न कुछ नया काम किया जा रहा है. मंगलवार को संसद भवन में भारतीय जनता पार्टी के संसदीय दल की बैठक हुई जिसमें पीएम मोदी ने सभी सांसदों को कोरोना वायरस के चलते संबोधित करते हुए बड़ा आदेश दिया है.

जानकारी के लिए बता दें भारत सरकार लगातार इस वायरस से बचने के लिए देशभर के लोगों को जागरूक कर रही है और साबधानी बरतने की कह रही है जिससे जल्द से जल्द इस बीमारी को खत्म किया जाए और ये बाकी लोगों में नहीं फैले. सभी सांसदों को संबोधित करने के दौरान केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने एक प्रेजेंटेशन दिया और बताया कि देश में अभी भी कोरोना को लेकर क्या हालात बने हुए हैं.

स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने अपनी इस प्रेजेंटेशन में सरकार ने इससे निपटने के लिए क्या कदम उठाये हैं और कोरोना से किस तरह सावधानी बरती जा सकती है, यह फैलता कैसे है इस तरह की तमाम जानकारी सांसदों के साथ साझा की. इस दौरान पीएम मोदी समेत, अमित शाह समेत तमाम नेता मौजूद थे.

गौरतलब है कि हर्षवर्धन ने बताया कि दुनिया के मुकाबले भारत ने पहले से ही इस बीमारी की रोकथाम के लिए कदम उठा लिए थे और समय के हिसाब से हम स्टेप्स लेकर आगे बढ़ते गये. उन्होंने कहा आज भारत में 126 मामले ही हैं और हम अभी भी हालात को काबू में करने लगे हुए हैं. वहीं पीएम मोदी ने सभी सांसदों से कोरोना को लेकर अपील करते हुए निर्देश दिया है कि वह अपने क्षेत्र में व्यापक तरीके से जागरूकता फैलाएं और बीमारी से बचाव करने के लिए अपील करें. अपने आस-पास साफ़ सफाई रखें और समय-समय पर अपने हाथों को सेनेटाईज करते रहें. इसी के साथ उन्होंने कहा है कि लोगों से अपील करें कि वह किसी भी तरह के विरोध प्रदर्शन से बचें ताकि ये बीमारी अन्य लोगों में न फैले.