कोरोना के चलते दिल्ली के प्राइमरी स्कूलों को लेकर दिल्ली सरकार ने लिए ये फैसला, मोदी का दौरा रद्द

कोरोना वायरस के भारत में लगातर बढ़ रहे मरीजों को देखते हुए अब सरकार बड़े फ़ैसले ले रही है. केंद्र सरकार ने भी कोरोना को लेकर बैठक की थी. स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन सिंह ने भी कहा है कि भारत इससे लड़ने के लिए तैयार हैं किसी को घबराने की जरुरत नहीं है. एक के बाद एक करके बढ़ रहे मरीजों के चलते दिल्ली सरकार ने बड़ा फैसला लिया है.

जानकारी के लिए बता दें कोरोना वायरस के चलते हुए दिल्ली के सभी प्राइमरी स्कूल को 31 मार्च तक के लिए बंद कर दिया गया है. दिल्ली सरकार के शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा है कि एहतियातन कक्षा एक से लेकर 5 वीं क्लास तक के सभी प्राइमरी स्कूल को 31 मार्च तक के लिए बंद करने के आदेश दे दिए हैं. वहीं जिन स्कूलों में परीक्षा चल रही हैं उन्हें भी सतकर्ता बरतने के निर्देश दिए गये हैं. इसी बीच एक बड़ी खबर पीएम मोदी को लेकर भी है.

दुनियाभर के देशों में बढ़ रहे कोरोना वायरस के प्रकोप को देखते हुए 14-15 मार्च को होने वाले पीएम मोदी के बेल्जियम दौरे को भी रद्द कर दिया गया है. दरअसल 14-15 मार्च को पीएम मोदी को भारत-यूरोपियन यूनियन में बैठक में हिस्सा लेने जाना था. अब इस कार्यक्रम के टल जाने के बाद इसकी कहा जा रहा है कि नई तारीख तय की जा सकती है.

गौरतलब है कि कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन सिंह ने संसद में बीमारी को नियंत्रण करने के लिए सरकार द्वारा अपनाए जा रहे उपायों की जानकारी दी और सभी को इसका पालन करने के लिए कहा है. उन्होंने गुरूवार को कहा है कि हम वायरस से लड़ने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं किसी को घबराने की जरुरत नहीं है. 4 मार्च तक 28529 लोगों की निगरानी (कम्युनिटी सर्विलांस) की जा रही है. पीएम मोदी भी निजी तौर पर निगरानी कर रहे हैं.