पीएम मोदी के इस एप ने दुनियाभर में मचाया ध’माल, डाउनलोडिंग में आया टॉप-10 के अंदर

1297

कोरोना वायरस ने पूरे देश के अंदर अपने क’हर से हाहाकार मचा रखा हैं. आज कोरोना से लड़ने  के लिए कोई भी वैक्सीन नहीं बनी हैं. कोरोना से लड़ने के लिए सिर्फ सोशल डिस्टेंसिंग ही एक साधन है. जिसका हम सबको पालन करना है. इसी से हम अपने को बचा सकेंगे. इसको लेकर पीएम मोदी ने भी लोगों से अपील करते रहते हैं और घर पर रहने को भी बोलते हैं.

इन सबके बीच प्रधानमंत्री मोदी ने कोरोना को ट्रैक करने के लिए बनाया गया एप आरोग्य सेतु जिसने दुनियाभर में धमाल मचा रखा हैं. आरोग्य सेतु एप के लांच होने कुछ हफ्ते बाद ही इसके 9 करोड़ यूजर हो गए हैं और इसके साथ ही यह दुनिया के टॉप 10 डाउनलोड किए गए ऐप्स में शामिल हो गया है. सेंसर टावर  ने जो आंकड़े जारी किए हैं, उसके मुताबिक ‘अप्रैल 2020 के दुनियाभर में टॉप डाउनलोडेड ऐप्स’ की लिस्ट में यह कोरोना ट्रैकिंग ऐप 7वें पायदान पर पहुंच गया है. इस एप ने बहुत तेज़ी से दुनिया में अपना दबदबा बना लिया हैं.

नेटफ्लिक्स और गूगल मीट को पछाड़ा
सेंसर टावर की रिपोर्ट के मुताबिक, आरोग्य सेतु ने ‘गूगल मीट, नेटफ्लिक्स और माइक्रोसॉफ्ट जैसे पॉप्युलर ऐप्स को पछाड़ दिया है’. इस लिस्ट में टॉप 6 ऐप्स ज़ूम, टिक टॉक व्हाट्सएप इन्स्टाग्राम  और मैसेंजर रहे हैं. अगर ओवरऑल डाउनलोड्स की बात करें तो आरोग्य सेतु एप 7वें पायदान पर हैं. आरोग्य सेतु एप ‘गूगल प्ले डाउनलोड्स’ लिस्ट में पांचवे नंबर पर रहा है. इससे ऊपर जूम, टिकटॉक, फेसबुक और वॉट्सऐप जैसे ऐप है.

केंद्र सरकार ने इस एप को इसलिए बनाया था ताकि वो इस एप के जरिये से लोगों को कोरोना जैसी बीमारी के ख’तरे से और जोखिम से बचने में कारगर साबित होता हैं. यह एप पता कैसे लगता हैं कि आपके आस पास कोई कोरोना पॉजिटिव मरीज है या नहीं तो ये एप स्मार्टफोन के ब्लूटूथ, लोकेशन और फोन नंबर का इस्तेमाल करता है. इस ऐप में कोरोना के हेल्प सेंटर और सेल्फ असेसमेंट टेस्ट जैसी सुविधाएं भी मौजूद हैं. यह ऐप को एंड्राइड के गूगल प्ले स्टोर और एप्पल के iOS ऐप स्टोर्स से डाउनलोड किया जा सकता है.