लद्दाख सीमा पर बढ़ते त’नाव के बीच पीएम मोदी ने चीन के करीबी मित्र देशों से की बातचीत

61

भारत और चीन के बीच लद्दाख सीमा को लेकर तना’व बना हुआ है. जिसकी वजह से दोनों ही देशों के रिश्तों में ख’टास पड़ गयी है. दरअसल करीब 1 महीने से ही LAC पर त’नाव बर’करार है. जिसे लेकर अब देश के पीएम नरेन्द्र मोदी ने चीन के दो मित्र देशों से बातचीत की है.

दरअसल एक तरफ कोरोना का क’हर मचा हुआ है दूसरी तरफ सीमा पर तना’व ऐसे में पीएम मोदी ने चीन के दो मित्र देश फिलीपींस के राष्ट्रपति रोद्रिगो दुतर्ते और कंबोडिया के राष्ट्रपति हुन सेन से कोविड-19 समेत कई मु’द्दों फ़ोन पर चर्चा की है. पीएम मोदी के कदम को बड़े कु’टनीतिक नजरिये से देखा जा रहा है. साथ ही इस बातचीत को चीन पर द’वाब बनाने के रूप में भी देखा जा रहा है.

बता दें LAC पर बने त’नाव को लेकर भारत और चीन के बीच कई बार बातचीत हो चुकी है. जिसके बाद मंगलवार से ही दोनों देशों की सेनायें 2.5 किलोमीटर तक पीछे हट गयी है. लेकिन भारत ने साफ़ कर दिया है कि सीमा पर त’नाव तभी पूरी तरह से ख’त्म होगा जब चीन अपनी सारी सेना और सामान को हटा लेगा.

इसके अलावा पीएम मोदी ने कंबोडिया के राष्ट्रपति हुन सेन से बातचीत में भारत के ऐक्ट ईस्ट पॉलिसी पर जोर दिया साथ ही दोनों देशों की बढ़ती साझेदारी पर भी चर्चा की. साथ ही पीएम मोदी ने ट्वीट कर लिखा कि मैंने कंबोडिया के साथ सभी क्षेत्रों में अपने संबंधों को और मजबूत करने के लिए भारत की प्रतिब’द्धता को व्यक्त किया. वही कंबोडिया के प्रधानमंत्री ने भारत के साथ अपने देश के संबं’धों के म’हत्व को रेखांकित किया है.

वही फिलीपींस के राष्ट्रपति रोद्रिगो दुतर्ते से बातचीत में भारत-प्रशांत क्षेत्र में फिलीपींस को करीबी सुरक्षा साझेदार बताया था और पीएम मोदी ने कोरोना के खि’लाफ ल’ड़ाई में फिलीपींस को मदद का भ’रोसा दिया है. जाहिर है पीएम मोदी के इस कदम के बाद चीन फिर से बौख’ला सकता है. लेकिन चीन के लगातार तनाव बनाये जाने को लेकर उसे मुहं’तोड़ जवाब देना भी जरुरी हो गया है.