मुश्किल में स्वरा भास्कर, भ’ड़का’ऊ भाषण देने पर दिल्ली हाईकोर्ट में याचिका दायर, FIR दर्ज करने की मांग

1354

दिल्ली में दं’गे ख़त्म होने के बाद शांति बहाली की कोशिशें की जा रही है. एक तरफ दिल्ली धीरे धीरे नॉर्मल होने की कोशिश कर रही है वहीँ दूसरी तरफ सियासत की आं’च भी द’हक रही है. 24, 25 और 26 दिसंबर को नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली में जो हुआ क्या उसकी जिम्मेदारी सिर्फ कपिल मिश्रा के सर पर है? नहीं जनाब इसकी जिम्मेदारी कपिल मिश्रा के सर पर नहीं बल्कि इसकी जिम्मेदारी स्वरा भास्कर, RJ सायेमा, अनुराग कश्यप, जीशान अयूब जैसों के सर पर हैं. पिछले दो महीनों से ये मुसलमानों को ये कह कर भ’ड़का रहे हैं कि सरकार तुम्हारी नागरिकता छीन रही है, सड़कों पर उतरो, सडक पर बैठ जाओ.

इसी को लेकर दिल्ली हाईकोर्ट में एक याचिका दायर की गई है जिसमे मांग की गई है कि लोगों को उकसाने, भ’ड़का’ने के लिए स्वरा भास्कर, RJ सायेमा, एक्टिविस्ट हर्ष मंदर और आम आदमी पार्टी के विधायक अमानतुल्लाह खान के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने की मांग की गई है. ये याचिका दायर की है एडवोकेट संजीव कुमार ने. इस याचिका में यह भी मांग की गई है कि दिल्ली हिंसा की जांच नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी से करवाई जाए. इस याचिका में ये भी कहा गया है कि कुछ बुद्धिजीवियों, छद्म उदारवादियों, टुकड़े-टुकड़े गिरोह ने अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रम्प के सामने भारत को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारत में बदनाम करने के लिए एक भयावह साजिश रची।

सोशल मीडिया पर स्वरा भास्कर का एक विवादास्पद वीडियो वायरल हो रहा है जिसमे वो कह रही है कि देश में मुसलमानों को मा’रा जा रहा है. मस्जिद की जमीन हिन्दुओं को दी जा रही है. इसका विरोध करना होगा. इस वीडियो में स्वरा विरोध करने के लिए सडकों पर उतरने का आह्वान कर रही है. स्वरा के कई ट्वीट वायरल हो रहे हैं जिसमे वो कई मौकों पर भीड़ को इकट्ठे होने के लिए कह रही है. स्वरा के इस ट्वीट के बाद अरेस्ट स्वरा भास्कर भी ट्रेंड कर रहा है.