कांवड़ यात्रा पर जाने के कारण इरशाद को उसी के महजब के लोगों ने क्यों पीटा

375

धर्म या महजब को लेकर विवादों की खबरें तो अकसर सामने आती रहती हैं. अगर कोई व्यक्ति अपने धर्म के अलावा किसी और धर्म के बारे में जानना या पढना चाहता है तो,उसी के धर्म के लोग उसको पीटते है या उसपर अत्याचार करते हैं. एसी ही एक घटना अलीगढ से सामने आई थी कि एक मुस्लिम व्यक्ति को उसके पडोसियों ने सिर्फ इसलिए पीटा और उसका हारमोनियम भी तोडा क्योंकि वो रामायण की चौपाई गाता था. आज हम आपको ऐसी ही एक और घटना के बारे में बताएगें जो बागपत के बडौत में हुई.

बागपत के बडौत में एक इरशाद नाम के व्यक्ति को उसके धर्म के लोगों ने उसे इसलिए मा’रा क्योंकि वो कांवड़ यात्रा पर अपने दोस्तो के साथ हरिदूार गया था और वहां से गंगा जल भी लेकर आया. उन्होनें उसके पी’टने का विडियो भी बनाया और उसे सोशल मिडिया पर वायरल कर दिया. उसके धर्म के लोगों ने ऐसा करना धर्म के खिलाफ बताया. पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है और मामले की जांच भी कर रही हैं.

बड़ौत के बड़का गांव के रहने वाले इरशाद ने कोतवाली में बताया कि वह अपने दोस्तों के साथ हरिद्वार गया था. वो भी वहां से एक बोतल में गंगाजल लेकर घर आ गया. इसकी जानकारी पडोस के एक युवक को हुई तो उसने हरिद्वार जाने और गंगा जल लाने पर आपत्ति जता दी. इसके बाद उसके साथ गाली-गलौच करते हुए मा’रपीट करने लगा. उनका कहना था कि ऐसा करना उनके धर्म के खिलाफ है. विरोध करने पर आरोपित ने उसके पिता के साथ भी मा’रपीट की. पीडि़त ने आरोपित के खिलाफ गवाही देकर कार्रवाई की मांग की है.हालांकि सीओ रामानन्द कुशवाहा का कहना है कि इरशाद जब हरिद्वार से आ रहा था तो भगवा बनियान पहने था. उसका किसी ने वीडियो बनाकर वायरल कर दिया,और कहा कि दोनों का आपसी पुराना झगड़ा है. मामले की जांच की जा रही है.