दिल्ली में विधानसभा चुनाव 8 फरवरी को संपन्न हो गया है. अब 11 फरवरी को इस चुनाव के नतीजे आने हैं. सभी दल अपनी अपनी जीत का दावा कर रहे हैं. वहीं दूसरी ओर एग्जिट पोल के अनुसार आम आदमी पार्टी एक बार फिर से सत्ता में आ सकती है या बहुमत के करीब पहुंच सकती है. ऐसे में सबसे बड़ा सवाल ये उठ रहा है कि अगर आम आदमी पार्टी बहुमत से दूर रहती है तो समर्थन कौन देगा?

जानकारी के लिए बता दें अब तक आए सर्वे के हिसाब से आम आदमी पार्टी की सरकार बनते दिखाई दे रही है लेकिन आप बहुमत के आंकड़े से दूर रही तो क्या कांग्रेस फिर से सरकार बनाने के लिए उसे समर्थन देगी? जब इस बात को लेकर दिल्ली कांग्रेस प्रदेश प्रभारी पीसी चाको से सवाल किया तो उन्होंने बेहद ही असमंजस वाला जवाब दिया.

दिल्ली कांग्रेस प्रदेश भारी पीसी चाको ने इस सवाल का जवाब देते हुए कहा कि ‘यह परिणामों पर निर्भर करता है. एक बार रिजल्ट सामने आ जाएं, उसके बाद ही हम उस पर चर्चा कर सकते हैं.’ दूसरी तरफ चाको ने कांग्रेस के बेहतर रिजल्ट का दावा करते हुए कहा है कि मुझे लगता है कि ये सर्वे सही नहीं हैं, इस बार कांग्रेस का आंकड़ा एग्जिट पोल्स में जताए गये अनुमानों से बेहतर होगा.

गौरतलब है कि शनिवार को हुई वोटिंग के बाद सभी उम्मीदवारों का भाग्य EVM में कैद हो गया है. अब 11 फरवरी को ही पता चलेगा कि इस बार किसके हाथ में सत्ता जाती है. हालाँकि बीजेपी ने दिल्ली में चुनाव के आखिरी समय में आक्रामक प्रचार किया था, जिससे बीजेपी को फ़ायदा भी मिल सकता है.