पाकिस्तान जिंदाबाद का नारा लगाने वाली लड़की के पिता का बयान, ‘उससे कहा था मुसलमानों से दूर रहो लेकिन…’

5865

AIMIM चीफ ओवैसी की रैली में पाकिस्तान जिंदाबाद का नारा लगा कर सनसनी मचाने वाली कथित छात्रा अब मुश्किल में फंस गई है. उस पर केस दर्ज कर उसे 14 दिनों के लिए जेल भेज दिया गया है. इतना ही नहीं, लड़की के परिवार ने भी उसका साथ छोड़ दिया है और कहा है कि उसने जो किया है वो गलत है. इसे बर्दास्त नहीं किया जा सकता.

अमूल्या की हरकत के बाद इंडिया टुडे ने उसके परिवार से बात की. उसके पिता जेडीएस (जनता दल सेक्युलर) के जिलास्तर के नेता हैं. उन्होंने बताया कि काफी दिनों से उनकी अपनी बेटी से बात नहीं हुई है. उन्होंने कितनी बार अमुल्या (बेटी) को समझाया कि मुसलमानों से दूर रहे. लेकिन उसने उनकी बात नहीं सुनी. उन्होंने कहा, ‘अमूल्या  ने जो भी किया है वो गलत है. उसे सही नहीं ठहराया जा सकता. मैंने कितनी बार उससे कहा कि मुसलमानों से दूर रहे. लेकिन उसने मेरी बात नहीं सुनी. मैंने उसे कितनी बार समझाया कि भड़काऊ बातें न बोले. लेकिन उसने कभी मेरी बात नहीं मानी.’

उन्होंने ये भी कहा कि उन्होंने कई बार उसे घर बुलाया लेकिन वो घर भी नहीं आई. उन्होंने कहा, ‘मैंने उसे अपनी बिमारी का वास्ता दिया. मैं दिल का मरीज हूँ. लेकिन उसने कहा कि वो मेरी तबियत से कोई वास्ता नहीं, मैं अपना ख्याल खुद रखूं. उसके बाद से मेरी बात उससे नहीं हुई है.’

इसी बीच अमूल्या का एक इंटरव्यू सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है जिसमे वो कह रही है कि वो अकेली नहीं है बल्कि उसके पीछे सलाहकारों की एक पूरी टीम काम करती है जो उसे सलाह देती है कि कैसे और कब क्या बोलना है. इस वीडियो के वायरल होने के बाद अब सवाल उठ रहे हैं कि वो कौन सी टीम है जो पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगवा रही है और देश विरोधी गतिविधियों को बढ़ावा दे रही है? ये सब जांच का विषय है. पहले से ही देश विरोधी प्रदर्शन होने का आरोप झेल रहा एंटी CAA प्रोटेस्ट अब खुद एक्सपोज होता जा रहा है.