पाकिस्तान में गुरुद्वारे पर ह’म’ले के बाद भाजपा ने राहुल और प्रियंका से पूछा ‘और सबूत चाहिए?’

1831

एक तरफ जहाँ कांग्रेस ने CAA के मुद्दे पर सरकार के खिलाफ मोर्चा खोला हुआ है और इस क़ानून से मुसलमानों को बाहर रखे जाने का विरोध कर रही है. वहीँ दूसरी तरफ पाकिस्तान में सिखों के पवित्र गुरुद्वारा ननकाना साहिब गुरुद्वारे पर सैकड़ों की भीड़ ने हम’ला कर दिया. हम’ला’वरों ने घंटों गुरुद्वारे को घेरे रखा और प’त्थर’बाजी करते रहे. हम’लाव’रों ने ननकाना साहिब का नाम बदलने की ध’मकी भी दी.

जहाँ एक तरफ ननकाना साहिब गुरुद्वारे पर हम’ले की घटना ने इस बात पर मुहर लगा दी कि पाकिस्तान में गैर मुस्लिम अल्पसंख्यक ड’र के माहौल में जी रहे हैं और उन्हें प्र’ताड़ि’त किया जा रहा है. वहीँ भारत में सत्ताधारी भाजपा को कांग्रेस पर हम’ला करने का मौका मिल गया.

भाजपा का कहना है कि कांग्रेस अभी तक ये मानने को तैयार ही नहीं है कि पाकिस्तान में अल्पसंख्यक प्रता’ड़ित हैं. क्या उसे और सबूत चाहिए?  बीजेपी के प्रवक्ता संबित पात्रा ने राहुल गांधी और प्रियंका गांधी पर हम’ला करते हुए लिखा, ‘ननकाना साहिब में एक भी सिख़ ना रहने देना. इस्ला’म के नाम पे यह धम’की दी जा रही थी पाकिस्तान में हमारे सिख़ भाइयों को. इन कांग्रेसियों को “Minority Religious Persecution” का और सबूत चाहिए? राहुक गाँधी और प्रियंका गांधी, क्या आप के लिए ये सबूत काफ़ी है या और चाहिए?’

बीजेपी नेता भूपेंद्र यादव ने ट्वीट करते हुए लिखा, पाकिस्तान के नानकाना साहिब गुरुद्वारे पर धा’र्मि’क उन्मा’दि’यों का हम’ला प्रमा’ण है कि वहां अल्पसंख्यकों के साथ बुरा ब’र्ताव होता है!”

केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने लिखा कि कल पाकिस्तान के पवित्र श्री ननकाना साहिब गुरुद्वारा के सबसे पवित्र स्थान पर तो’ड़फो’ड़, पथ’राव और आ’ग’जनी की गई. यह घटना पाकिस्तान में अल्प’संख्य’कों के धार्मिक उ’त्पी’ड़न और CAA के पीछे धार्मिक अ’त्याचा’र को मान्यता देने से मना करने वालों के लिए आंखें खोलने वाला होना चाहिए.

गौरतलब है कि पाकिस्तान में एक सिख लड़की का अप’ह’रण कर उसका ज’बर’न धर्म प’रिव’र्तन कर निकाह कर दिया गया. वो युवती ननकाना साहिब के ग्रंथि की बेटी है. पुलिस ने आ’रो’पी को गि’रफ्ता’र किया तो उसे बचाने के लिए ह’मला’वरों ने ननकाना साहिब गुरुद्वारे को निशाना बनाया.