एग्जिट पोल देख कर पाकिस्तान में ख़ुशी की लहर

1033

शनिवार 8 फ़रवरी को दिल्ली में वोटिंग ख़त्म होने के बाद जब एग्जिट पोल आया तो भाजपा समर्तक खेमे में दुःख का माहौल था जबकि भाजपा विरोधी खेमे में ख़ुशी का माहौल देखा गया. लेकिन ख़ुशी का आलम सिर्फ देश के ही भाजपा और मोदी विरोधियों में नहीं था बल्कि वो देश की सरहदों को पार कर गया. एग्जिट पोल देखने के बाद ख़ुशी पाकिस्तान में देखने को मिली.

पाकिस्तान के मंत्री चौधरी फवाद हुसैन ने ट्वीट कर कहा कि इस हार से नफरत की राजनीति करने वालों को हार मिलेगी. फवाद हुसैन ने ट्वीट कर कहा, ‘कट्टरवादी ताकतों को दिल्ली चुनाव हारता हुआ देख ख़ुशी महसूस हो रही है. उम्मीद है कि इस हार से मोदी सीखेंगे कि नफरत की राजनीति की कोई जगह नहीं.

वैसे पाकिस्तान का खुश होना जायज भी है. पिछले 6 सालों में नरेंद्र मोदी ने पाकिस्तान को इतने ज़ख्म दिए हैं और ऐसी दुर्गति कर दी है कि वो बस यही दुआ करते रहता है कि जल्द से जल्द भारत की राजनीति में मोदी युग का अंत हो जाए.

आपको याद न हो तो बता दें कि चुनाव से पहले भी पाकिस्तान के इस मंत्री ने ट्वीट कर दिल्ली वालों से अपील की थी कि मोदी और भाजपा को वोट ना दें जिसके बाद दिल्ली चुनाव में पाकिस्तान का मुद्दा खूब उछला था. पाकिस्तान के मुद्दे पर कहीं भाजपा को फायदा न हो जाए इसलिए अरविन्द केजरीवाल ने भी पाकिस्तान के भारत के अंदरूनी मामलों में टांग अड़ाने को लेकर लताड़ लगाई थी. एग्जिट पोल देख कर तो ऐसा ही लग रहा है कि पाकिस्तान को खुश होने की वजह मिल गई है. लेकिन वो ये भूल रहा है कि अभी भी साढ़े चार साल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ही रहेंगे और गृह मंत्री अमित शाह ही रहेंगे.