पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद् में उठाया कश्मीर का मुद्दा, भारत ने दिया ऐसा जवाब की हमेशा याद रखेगा

221

पाकिस्तान जब भी भारत के खिला’फ कुछ करता हैं. उसको मुहं की खानी पड़ती हैं. धारा 370 हटने के बाद पाक बौराया हुआ घूम रहा हैं. अब पाकिस्तान अन्तराष्ट्रीय मंच पर भी उसको मुहं की खानी पड़ी हैं. क्योकि वहां पर भी उसने कश्मीर का मुद्दा उठाया था. जिसको लेकर भारत ने उसको मुह तोड़ जवाब दिया हैं.

पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद (UNHRC) में कश्मीर का मुद्दा उठाने पर भारत ने उसे जवाब देते हुए अपने गिरेबान में झांकने की नसीहत दी है. UNHRC में भारत के पर्मानेंट मिशन के फर्स्ट सेक्रेटरी सेंथिल कुमार ने पाकिस्तान पर अंतर्राष्ट्रीय मंच के दु’रुपयोग का आरो’प लगाते हुए कहा कि ‘यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि खुद नरसंहार करने वाला देश दूसरों पर उंगली उठा रहा है’.

मानवाधिकार परिषद के 43वें सत्र का आयोजन जिनेवा में हुआ जहाँ पर भारत की तरफ से सेंथिल कुमार ने पाकिस्तान के आ’रोपों की धज्जियां उड़ाते हुए कहा, ‘ पाक UNHRC और इसकी प्रक्रिया का दुरूप’योग कर रहा है. वह दक्षिण एशिया का एकमात्र ऐसा देश है जिसकी सरकार खुद न’रसंहार करती है और फिर भी उसमें दूसरों पर आ’रोप लगाने की हिम्मत है. बेहतर होगा कि दूसरों को राय देने से पहले पाकिस्तान अपने गिरेबान में झांके और मानवाधिकारों के उल्लं’घन पर ध्यान दे’.

पाकिस्तान को अल्पसंख्यक पर अत्याचार को लेकर घेरते हुए ये आ’रोप लगे है कि वो एक खून ख़राब करने वाला देश और अल्पसंख्यक पर अत्य’चार करता है. तो किस मुहं से भारत को नसीयत दे रहा है वो खुद अपने अन्दर झांक कर देखे उसके बाद कुछ बोले. सेंथिल कुमार ने पाकिस्तान को बलूचिस्तान में जो लोग गायब हो गए उसको लेकर भी खूब हम’ला किया और पूछा कि कहा गायब हो जाते है लोग. धारा 370 को लेकर सेंथिल ने कहा कि ये मामला कोई बाहरी नहीं हैं. इस लिए पाकिस्तान सिर्फ शांति बाधित कर रहा हैं. लेकिन घटी के लोग उसके बाद भी आगे बढ़ रहें हैं.