भारत में रहकर पाकिस्तान पहुंचा अब्दुल बासित आतंकी बन गया?

924

कश्मीर को लेकर पाकिस्तान की तिलिमिलाहट कम होने का नाम नही ले रही है. लगातार पाकिस्तान की तरफ से कश्मीरियों को भडकाया जा रहा है. खुलेआम अब पाकिस्तान के रिटायर अधिकारी कश्मीर में आतंकवाद को बढ़ावा देने की वकालत कर रहे हैं. एक तरफ जहाँ पाकिस्तान के वजीरे आजम आतंकवाद पर पाबंदी लगाने की बात कहकर इधर उधर से चंदा मांग रहे हैं वहीँ दूसरी तरफ पाकिस्तान की मीडिया खुलेआम कश्मीर में आतंकियों को बढ़ावा दे रही है.

 दरअसल पत्रकार मानक गुप्ता ने एक ट्वीट शेयर किया.. ये ट्वीट पाकिस्तानी पत्रकार का है, जो वीडियो में अपने एक पैनल के साथ बातचीत कर रहा है. इस वीडियो में कई सालों तक भारत में रह चुका और कुछ भारतीय नेताओं का पसंदीदा अब्दुल बासित भी नजर आ रहा है. इस पैनल में दो अन्य मेहमान या कहे आतंकियों के समर्थक मौजूद हैं. एक जनाब कहते हैं कि आम लोगों को भी बंदूख उठानी चाहिए, जायज है, वही मेहमान आगे कहता है कि जायज जिहाद के लिए विश्व को इसका समर्थन करना चाहिए.. इस महान व्यक्ति की सुनकर मुझे समझ आया कि जिहाद भी जायज और नाजायज होता है. इस अब्दुल बासित कहता है कि ये पूरी दुनिया का राईट है कि वे कश्मीर में आतंकी पैदा करें, आतंकियों का समर्थन करें.. इतना ही नही ये रक्षा विशेषज्ञ इतना तक कहते आ रहे हैं कि कश्मीरियों को हथियार उठाना चाहिए और ये पाकिस्तान कर्तव्य है कि वो उनका समर्थन करे…इसका मलतब समझ रहे हैं ना आप! मतलब कश्मीर के लोगों को आतंकी बनाओ, कश्मीर में आतंक फैलाओ और जायज और नाजायज जिहाद करो.. अब्दुल बासित कई सालों तक भारत में उच्चायुक्त के तौर पर रह चुका है और भारत में रहकर ये सालों तक क्या कर रहा था इसका अंदाजा अब इसके बोल से लगा सकते हैं.

खैर अब बात करते हैं पाकिस्तान और आतंकवाद की! पाकिस्तान सालों से आतंकियों को पाल रहा है, उनका बचाव कर रहा है, जो कभी भारत को जख्मी करते हैं और कभी पाकिस्तान भी इस नाजायज जिहाद का शिकार खुद हुआ है.. पूरी दुनिया में आतंकवाद को लेकर कुख्यात हुआ आतंकिस्तान सॉरी पाकिस्तान के लोग अभी भी खुद को सुधारना नही चाहते.. वो खुद के माथे पर आतंकवाद लिखकर ही जीना चाहते हैं. हालाँकि कश्मीर के मुद्दे पर पाकिस्तान पूरी तरफ बेनकाब हो रहा है, अब पाकिस्तान किसी भी हद तक जा सकता है इसका नदाजा इस वीडियो से लगाया जा सकता है कि कैसे कुछ लोग जहर फैलाने का काम कर रहे हैं, आतंक को बढ़ावा देने का काम कर रहे हैं हालाँकि ये अब ये सार्वजानिक मंचों से बोलने लगे है तो पहले परदे ले पीछे रहकर किया करते थे.

पर हाँ भारत भी तैयार है, अभी हाल ही सेना प्रमुख ने कहा है कि बालाकोट के बाद युद्ध हो सकता था, भारत तैयार था और करोडो रूपये के हथियार खरीदे जा चुके हैं.. हर स्थिति , आंतकी और पाकिस्तानी घुसपैठी सबसे निपटेगा भारत!