आर्मी चीफ पर भड़’के चिदंबरम, कहा ”आप आर्मी संभालो, राजनीति हम संभाल लेंगे”

1335

आजकल आर्मी चीफ बिपिन रावत खूब चर्चाओं में हैं, हाल ही में एक यूनिवर्सिटी में उन्होंने एक सम्बोधन के दौरान छात्रों को हिं’सा का रास्ता न चुनने की सलाह दी थी, हालांकि उन्होंने इसे समझाने के तरीके से बोला था मगर फिर भी इसपर राजनीतिक माहौल गरमा गया. और विपक्ष को शायद ये लग रहा है कि वो केंद्र सरकार की जबान में बातें कर रहे हैं. हाल ही में कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने उनपर तंज कसते हुए स्पष्ट रूप से कहा कि बिपिन रावत आर्मी चीफ हैं, उनको देश की सेना को सँभालने की जिम्मेदारी सौंपी गयी है और वो उसी पर ध्यान दें, राजनीति हम खुद कर लेंगे.

ये बयान उन्होंने तिरुवनंतपुरम में कांग्रेस के स्थापना दिवस के मौके पर दिया जहाँ कांग्रेस के तमाम कार्यकर्ता मौजूद थे. वो बोले – ” डीजीपी और आर्मी जनरलों को सरकार के पक्ष में बोलने को कहा जा रहा है जो कि वाकई शर्म की बात है, मुझे लगता है कि उन्हें देश के नेताओं को सलाह नहीं देनी चाहिए और सिर्फ अपने काम से काम ही रखना चाहिए.

गौरतलब है हाल ही में चिदंबरम जमानत पर जेल पर रिहा हुए हैं, और कोर्ट ने उनके सामने जमानत के समय जो शर्तें रखीं थीं उनमें एक ये भी शर्त थी कि वो मीडिया में आकर कोई बयानबाजी नहीं कर सकते हैं और अगर वो ऐसा करते हैं तो उनकी जमानत रद्द कर दी जाएगी. मगर चिदंबरम फिर भी इस तरह की बयानबाजी कर रहे हैं.जो कि कोर्ट की जमानती शर्तों के खिलाफ है. वहीँ बिपिन रावत की ओर इस पर अबतक कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है.

कांग्रेस नेता ने साथ ही ये भी कहा कि ”जिस तरफ से ये हमारा काम नहीं है कि हम आपको ये सलाह दें कि आखिर किस हालात में आप किस तरह से यु’द्ध लड़ेंगे ? अगर आप कहीं एक जं’ग में हैं तो हम आपको नहीं बता सकते हैं कि किस तकनीक से आप यु’द्ध को लड़ें. जिस तरह से यु’द्ध लड़ने के लिए क्या सही है क्या गलत आप खुद तय करते हैं हमें भी खुद तय करने दीजिये कि राजनीति किस तरह से करनी चाहिए.आप सेना चलाइये हमें देश चलाने दीजिये.