134 देशों ने 5 लाख पाकिस्तानियों को अपने यहाँ से भगा दिया

1530

कौम, उम्मा और इस्लाम की बातें करने वाले पाकिस्तान की दुनिया में क्या हैसियत है ये किसी से छुपा नहीं है. आतंकवाद के सरपरस्त मुल्क के रूप में दुनिया भर में बदनाम हो चुके पाकिस्तान को शर्मसार करने वाली एक और खबर आई है. पिछले 5 सालों में दुनिया भर के 134 देशों ने अपने यहाँ से 5 लाख 19 हज़ार पाकिस्तानी नागरिकों को बाहर निकाल दिया है. इन सभी पाकिस्तानी नागरिकों के दस्तावेज फर्जी थे और ये लोग जिन देशों में रह रहे थे वहां कई तरह की आपराधिक गतिविधियों में लिप्त थे और उस देश की सुरक्षा के लिए खतरा बन गए थे.

पाकिस्तानी अखबार टाइम्स ऑफ़ इस्लामाबाद ने पाकिस्तानी गृह मंत्रालय की रिपोर्ट के आधार पर खुलासा किया है कि साल 2014 के बाद से दुनिया के 134 मुल्कों ने 5 लाख 19 हज़ार पाकिस्तानी नागरिकों को अपने देश से निकाल दिया है.

सबसे दिलचस्प बात ये है कि पाकिस्तानियों को अपने देश से निकालने में टॉप टेन में वो देश शामिल हैं जिनकी दोस्ती पर पाकिस्तान को बहुत नाज है. सबसे ज्यादा इस्लामिक देशों ने ही पाकिस्तानियों को अपने मुल्क से बेदखल किया है.

पाकिस्तानों को अपने मुल्क से बाहर निकालने के मामले में सऊदी अरब, संयुक्त अरब अमीरात, ओमान और तुर्की शीर्ष स्थानों पर काबिज हैं. 2014 के बाद सबसे अधिक पाकिस्तानी नागरिकों को सऊदी अरब ने अपने देश से बाहर निकाला है. सऊदी अरब ने 3 लाख 25 हज़ार से अधिक पाकिस्तानियों को बीते 5 सालों में अपने देश से निष्कासित किया है जबकि इस मामले में दुसरे स्थान पर UAE है. UAE ने पिछले 5 सालों में अपने देश से करीब 52 हज़ार से अधिक पाकिस्तानी नागरिकों को बाहर निकाला है. उसके बाद तीसरे नंबर पर ओमान और चौथे नंबर पर तुर्की है. इन दोनों देशों ने मिल कर अपने यहाँ रह रहे करीब 47,000 पाकिस्तानी नागरिकों को बेदखल कर दिया. ये सभी लोग अवैध रूप से तुर्की और ओमान में रह रहे थे.

मलेशिया ने पिछले 5 सालों में अपने यहाँ से 18 हज़ार पाकिस्तानियों को निकाल बाहर किया है. पाकिस्तान के लिए अब्बा हुज़ूर का दर्जा रखने वाले चीन ने भी अपने यहाँ से 275 पाकिस्तानी नागरिकों को बाहर कर दिया है. हैरानी होगी आपको ये जानकार कि मौजूदा वक़्त में चीन, तुर्की और मलेशिया ही पाकिस्तान के सबसे पक्के वाले दोस्त हैं और कश्मीर के मुद्दे पर पाकिस्तान के साथ खड़े हैं.

ना सिर्फ इस्लामिक मुल्कों ने बल्कि यूरोपीय देशों ने भी अपने यहाँ से बड़ी संख्या में पाकिस्तानी नागरिकों को निकाला है. ब्रिटेन ने 15 हज़ार 230, ग्रीस 17 हज़ार 534, इरान ने 15 हज़ार 413, अमेरिका ने 936, और कनाडा ने 445 पाकिस्तानियों को अपने देश से बाहर निकाल दिया.