नोएडा प्रशासन का बड़ा आदेश, एक महीने तक कोई भी मकान मालिक नहीं मांगेगा किराया, अगर माँगा तो…

669

लॉकडाउन की वजह से बड़ी संख्या में मजदूर और कामकाजी वर्ग इस वक़्त घरों में बैठा है. इस वक़्त उनकी सबसे बड़ी चिंता मकान मालिकों को किराया देने की है. बड़ी संख्या में किराया देने में असमर्थ लोग घर खाली कर के पलायन कर रहे हैं. ऐसे में नोएडा प्रशासन ने बड़ा कदम उठाया है.

नोएडा प्रशासन ने ऐलान किया है कि एक महीने तक कोई भी मकान मालिक अपने किरायेदार से किराया नहीं मांगेगा और न किराया देने के लिए दवाब बनाएगा. अगर ऐसा किसी मकान मालिक ने किया तो उसे एक साल की जेल हो सहती है और जुर्माना भी लगाया जा सकता है. ये आदेश गौतम बुद्ध नगर (नोएडा) जिलाधिकारी की तरफ से आया है. प्रशासन ने ये आदेश इसलिए किया है ताकि किराया देश में असमर्थ लोग घर छोड़ कर पलायन नहीं कर सके.

नोएडा प्रशासन ने कहा है कि अगर कोई मकान मालिक अपने किरायेदार को तंग करता है तो 112 नंबर पर शिकायत की जा सकती है. अगर किसी मकान मालिक ने अपने किरायेदार को घर से निकाला तो उसे 2 साल की जेल हो सकती है. गुरुवार रात कमिश्नर व डीएम बीएन सिंह दोनों अधिकारी एक साथ सड़क पर उतरे. दोनों अधिकारी सेक्टर 62 और 8 में मजदूरों की कॉलोनी में गए. यहां लोगों को लॉकडाउन के बारे में बताया. साथ ही दुकानदारों को भी चेतावनी दी गई है कि अगर महँगी दरों पर सामान बेचा तो उनपर भी कारवाई की जायेगी.