निजामुद्दीन के मज़हबी कार्यक्रम में शामिल हुए देश विदेश के सैकड़ों मुसलमान, इनमे से 6 की कोरोना से मौ’त

1279

दिल्ली समेत पूरे देश में हड़कंप मचा हुआ है. दिल्ली के निजामुद्दीन में हुए एक मजहबी जलसे में देश विदेश के करीब 2000 लोग शामिल हुए और फिर वहां से निकल कर देश के अलग अलग हिस्सों में फ़ैल गए. अब तेलंगाना में इस जलसे में शामिल हुए 6 लोगों की कोरोना की वजह से मौत हो गई है. दिल्ली में करीब 11 लोगों में कोरोना की पुष्टि हुई है ये सभी निजामुद्दीन के उसी मजहबी जलसे में शामिल हुए थे. ये मज़हबी जलसा एक इस्लामी संगठन तबलीगी जमात ने आयोजित किया था.

तबलीगी जमात के इस मजहबी जलसे में इंडोनेशिया और सऊदी अरब जैसे कोरोना प्रभावित देशों के लोग भी शामिल हुए थे. इसी जलसे में शामिल एक व्यक्ति की रविवार को दिल्ली में मौत हो गई थी. जिसके बाद कई लोगों को अस्पताल में जांच के लिए भेजा गया था. उसके बाद इस पूरे काण्ड का भंडाफोड़ हुआ.

तबलीगी जमात के मरकज में ये मजहबी जलसा 18 मार्च को आयोजन किया था. इसमें सऊदी अरब, मलेशिया और इंडोनेशिया जैसे कोरोना प्रभावित देशों के कई लोग शामिल हुए थे. आपको बता दें कि जब ये मजहबी जलसा हुआ उस वक़्त दिल्ली सरकार ने एक जगह पर 50 से अधिक लोगों के इकट्ठे होने पर पाबंदी लगा रखी थी.

तबलीगी जमात के कार्यक्रम में हिस्सा लेने के बाद लोग देश के अलग अलग हिस्सों में चले गए. देश के तमाम हिस्सों से मुस्लिम समाज के लोग और मौलाना इस कार्यक्रम में आए थे और जब ये लोग वापस गए तो अपने साथ ले गए कोरोना वायरस उस हिस्से में ले गए. सोमवार मामला सामने आने के बाद पुलिस ने पुरे इलाके को घेर लिया और मरकज़ को खाली करवा कर सबको जांच के लिए भेजा गया. ड्रोन से इलाके की निगरानी की जा रही है.