केंद्र सरकार अक्सर ये दावा करती है कि उसने छोटे कारोबारियों की मदद के लिए कई कदम उठाये हैं. सरकार ने कई ऐसी योजनायें भी शुरू की है जिससे छोटे कारोबारियों को मदद मिल सके लेकिन इसके बावजूद छोटे कारोबारियों को कई मोर्चों पर संघर्ष करना पड़ता है. ऐसे ही एक छोटे कारोबारी को बैंक ने परेशान किया तो उसने वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण से शिकायत कर मदद मांगी.

हुआ ये कि एक छोटे कारोबारी संजय पटेल ने बैंक से परेशान होकर निर्मला सीतारमण को टैग करते हुए ट्विटर पर उनसे मदद मांगी. उन्होंने लिखा कि उनके द्वारा सारे लोन चुकाए जाने के बाद भी सेन्ट्रल बैंक ऑफ़ इंडिया उनके घर के कागजात नहीं दे रहा. वो चार महीने पहले ही अपने लोग को क्लियर कर चुके है. उन्होंने बताया कि अपने कारोबार को मुश्किल हालात से उबारने को उन्होंने अपनी पर्सनल प्रॉपर्टी तक बेच दी. हमारी मदद कीजिए. हमारी फैक्ट्री की काफी वैल्यू है.’

उनके ट्वीट को देख कर वित्त मंत्री ने संज्ञान लिया. उन्होंने लिखा, ‘जानकर दुख हुआ और वित्त मंत्रालय इस बारे में आपसे बात करेगा.’ अक्सर ये देखने को मिलता है कि सरकार छोटे कारोबारियों की मदद के लिए योजनायें और सुविधाएं शुरू तो कर देती है लेकिन इसके बावजूद उन्हें अपना बिजनेस चलाने के लिए कई मोर्चों पर जूझना पड़ता है. बैंकों द्वारा शोषण का शिकार होना पड़ता है. संजय पटेल के मामले में भी कुछ ऐसा ही हुआ है. जिस कारण उन्हें सीधे वित्त मंत्री से मदद की गुहार लगानी पड़ी है.