कोर्ट ने दिया आदेश, इस तारीख को लट’काओ निर्भया के दो’षि’यों को फां’सी पर

2731

देश की राजधानी दिल्ली में अमा’नवीय और ज’घन्य हालातों का सामना कर दम तोड़ने वाली निर्भया को आखिरकार आज इंसाफ मिल गया. पटियाला हाउस कोर्ट ने चारों दो’षियों अक्षय, मुकेश, विनय और पवन की फां’सी की तारीख पर मुहर लगा दी. कोर्ट ने कहा कि चारों दो’षि’यों को 22 जनवरी को फां’सी पर लटकाया जाए. चारो को फां’सी कि स’जा पहले ही दी जा चुकी है. आज बस इनके फां’सी कि तारीख पर मुहर लगी. एक दोषी राम सिंह ने पहले ही फां’सी लगा कर आ’त्म’ह’त्या कर ली थी और छठा दो’षी नाबालिक था जिसे जुवेनाइल कोर्ट के जरिये स’जा सुनाई गई थी. फां’सी पर मुहर लगाने से पहले जज ने के जरिये चारो दो’षि’यों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये बात की.

इससे पहले फां’सी की तारीख पर सुनवाई के दौरान निर्भया की मां और दोषी मुकेश की मां कोर्ट में ही रो पड़ीं. इससे पहले सुनवाई के दौरान दो’षि’यों के वकील और निर्भया के मां के वकील के बीच तीखी बहस हुई. निर्भया की मां के वकील ने कोर्ट में कहा कि दो’षी समय हासिल करना चाहते हैं. इसपर दो’षि’यों के वकील ने कहा कि उनके मुवक्किल क्यूरेटिव पिटिशन दाखिल करना चाहते है.

पटियाला हाउस कोर्ट में दो’षि’यों के वकील ने दलील दी कि वह अपने मुवक्किलों ने नहीं मिल पाए हैं. दो’षि’यों के वकील ने दावा किया कि उनके मुवक्किलों को जे’ल में टॉ’र्चर किया गया है. आपको बता दें कि पिछले महीने चारों दो’षि’यों में से एक दो’षी अक्षय ने फां’सी से बचने के लिए एक बहुत ही अजीब दलील दी गई थी. उसने कहा था कि दिल्ली की हवा बहुत ज’ह’री’ली है. इस ज’हरी’ली हवा में तो खुद ही म’र जाएगा. ऐसे में उसे फां’सी क्यों दी जा रही है. उसने वेद और पुराणों का भी हवाला दिया था.