निर्भ’या मामले में दिल्ली हाईकोर्ट का बड़ा झ’टका, एक हफ़्ते की मोहलत देते हुए कह दी ये बात

4091

निर्भया मामले में दो’षी चारों आ’रोपी फां’सी से बचने के लिए हर उपाय रहे हैं लेकिन एक के बाद एक करके उनके सारे रास्ते बंद होते जा रहे हैं. इस मामले में डे’थ वारंट जारी होने के बाद एक फरवरी को दो’षियों को फां’सी होनी थी लेकिन अब इससे पहले दोषियों के वकील ने फिर एक याचिका दायर कर दी है जिससे चारों दो’षियों को 1 फरवरी को होने वाली फां’सी टल गयी थी.

जानकारी के लिए बता दें दिल्ली निर्भया गैं’गरे’प के आरोपियों को एक बार हाईकोर्ट ने बड़ा झटका दिया है. कोर्ट ने फैसला सुनाते हुए कहा है कि चारों दो’षियों को एक साथ फां’सी दी जा सकती है. कोर्ट ने अंतिम वार्निंग देते हुए कहा है कि चारों दो’षी एक हफ़्ते के भीतर अपने सभी क़ानूनी विकल्पों का इस्तेमाल कर लें. फिर एक हफ़्ते बाद उनका डे’थ वारंट तामील करने की प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी.

दिल्ली हाईकोर्ट ने कहा है कि इसमें कोई विवाद नही हो सकता है कि आरो’पियों ने देरी करने की रणनीतियों का इस्तेमाल करके प्रक्रिया को विफल किया है. दिल्ली हाईकोर्ट के अनुसार “मई 2017 में सुप्रीम कोर्ट द्वारा दो’षियों ने की अपील खारिज करने के बाद किसी ने भी उनके खिलाफ मौ’त का वा’रंट जारी करने के लिए कदम नही उठाये.” वहीं हाईकोर्ट ने अगले आदेशों तक दो’षियों की फां’सी पर रोक के लिए निचली अदालत के आदेश को ख़ारिज करने से साफ़ इंकार कर दिया है.

गौरतलब है कि बुधवार को संसद में कानून मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने भी बड़ा बयान दिया. उन्होंने कहा कि निर्भया के दो’षियों को जल्द से जल्द फां’सी होनी चाहिए. उन्होंने कहा कि निर्भया मामले के दो’षी क़ानूनी उपायों का दुरपयोग करके फां’सी को टाल रहे हैं लेकिन उन्हें जल्द से जल्द फां’सी होनी चाहिए. वहीं निर्भया की माँ ने भी यही कहा है कि जब तक दो’षियों को फां’सी नही हो जाती वह लड़ती रहेंगी.