नीरव मोदी के लिए लंदन टीम भेजेगी CBI और ED, विदेश मंत्रालय की तरफ से बयान जारी

304

नीरव मोदी लंदन की सड़कों पर बेखौफ घुमते हुए नजर आए। जिसके बाद से ही कई तरह की बातें सामने आने लगी, विपक्ष सरकार पर निशाना साधते हुए आरोप लगाने लगा कि चौकीदार चोरी भी करता है और करवाता भी है..नीरव मोदी बेखौफ घुम रहा है और सरकार कुछ नहीं कर रहा है..जिसके बाद इसपर विदेश मंत्रालय की ओर से बयान जारी हुआ है. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि हम नीरव मोदी के प्रत्यर्पण को लेकर कार्यवाही कर रहे हैं. लंदन में वह दिख गया, इसका यह मतलब नहीं है कि हम उसको तुरंत भारत ले आएंगे. इसके लिए एक पूरी प्रक्रिया होती है, जो हम कर रहे हैं.

विदेश मंत्रालय ने कहा कि हमने पिछले साल अगस्त में नीरव मोदी के प्रत्पर्पण का अनुरोध किया था. हम अच्छी तरह से जानते हैं कि वह ब्रिटेन में है, अन्यथा हम यह अनुरोध नहीं करते. हमने ED और CBI से मिली जानकारी के माध्यम से प्रत्यर्पण के लिए अनुरोध किया है, अभी ब्रिटेन की ओर से जवाब आना बाकी है.

उन्होंने कहा कि हमें ब्रिटेन सरकार से प्रत्यर्पण के लिए कोई नया दस्तावेज प्रस्तुत करने के लिए नहीं कहा गया है, जब तक कि हमें ब्रिटिश सरकार से कोई जानकारी नहीं मिलती तब तक यह मामला ब्रिटेन सरकार के पास विचाराधीन है. अभी इसके आगे की कोई जानकारी नहीं मिली है.

आगे रवीश कुमार ने कहा कि विजय माल्या के केस की तरह ही वो नीरव मोदी मामले पर शिद्दत से कार्यवाही कर रहे हैं.उन्होंने साफ शब्दों में कहा कि ये कहना गलत है कि हम नीरव मोदी के खिलाफ कार्यवाही नहीं कर रहे हैं.

PNB से 13 हजार करोड़ लेकर फरार नीरव मोदी लंदन में अपने नए लुक के साथ सड़कों पर बेखौफ घूमता नजर आया. हालांकि, उसके खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस जारी हो चुका है. इसके बाद भी वो इस बात से बेपरवाह है कि भारत की जांच एजेंसी उसे तलाश रही है. जब से नीरव मोदी का लंदन से तस्वीर सामने आया है तब से कांग्रेस इसको लेकर मोदी सरकार पर हमला बोल रही है. कांग्रेस ने ट्वीट किया है कि मीडिया ने नीरव मोदी को खोज निकाला. मोदी सरकार नीरव तक क्यों नहीं पहुंच पाई. नीरव मोदी को कौन बचा रहा है.

हालांकि, नीरव मोदी भले ही भारतीय जांच एजेंसियों के शिकंजे से दूर लंदन में मौज-मस्ती कर रहा हो, लेकिन भारत में उसके खिलाफ सिलसिलेवार कार्रवाई हो रही है. अभी हाल ही में नीरव मोदी के महाराष्ट्र के अलीबाग में नीरव मोदी के बंगले को ध्वस्त किया गया. इस बंगले की कीमत करीब 100 करोड़ रुपए थी. ईडी ने नीरव मोदी की 147.72 करोड़ रुपये की संपत्ति को कुर्क की.