लखनऊ में TMC कार्यकर्ताओं के आने पर रोक : DGP UP

565

लखनऊ में CAA को लेकर जो हिंसा हुई थी उसपर UP DGP ओ पी सिंह ने ये कहा था की उपद्रव मचाने वाले पश्चिम बंगाल TMC के कार्यकर्ता थे, जिन्होंने प्रदर्शन के दौरान आगजनी और हिंसा कि थी.

अब इस खबर से जुडी बड़ी अपडेट सामने आई है, कि लखनऊ में तनाव को देखते हुए पुलिस अलर्ट मोड पर है और तनावपूर्ण स्थिति देखते हुए UP के DGP ओ पी सिंह का कहना है की लखनऊ में TMC कार्यकर्ताओं पर रोक लगा दी गई है. लखनऊ में धारा 144 लागू है और इसको देखते हुए DGP ने कहा कि TMC के कार्यकर्ताओं को आने से रोक दिया है. लखनऊ के हालातों को देखते हुए 24 दिसम्बर तक सभी स्कूल कॉलेज बंद कर दिए गए हैं.

राज्य में शनिवार को UP के कई और जिलों में विरोध प्रदर्शन हुए. कानपुर और रामपुर में  आग’जनी हुई और पुलिस के साथ झड़प में एक व्यक्ति की मौत हो गई. प्रदेश में पिछले कई दिनों से  हिंसा कि वजह से 18 लोगों की मौत हो गई है. UP DGP का कहना है की इस प्रदर्शन और हिं’सा को देखते हुए 879 संदिग्ध लोगों की गिरफ्तारी की जा चुकी है.हिं’सक प्रदर्शन के दौरान 282 पुलिसकर्मी ज़ख़्मी हुए हैं और 135 असामाजिक तत्वों के खिलाफ केस भी दर्ज किये गये हैं.

इस हिं’सा के बाद पुलिस एक्शन मोड़ में है और UP के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का कहना है कि कोई भी दोषी बख्शा नही जायेगा.और जो नुकसान हुआ है हिं’सा और आग’जनी के समय उसकी भरपाई का काम भी सरकार ने शुरू कर दिया है.इसके तहत उन सभी उप’द्रवी लोगों के ऊपर कार्रवाई शुरू हो गई है.

UP DGP ओ पी सिंह ने कहा कि ‘हमें ये सूचना मिली है कि कुछ TMC नेता लखनऊ आना चाहते हैं,यहाँ धारा 144 लागू है और इनके आने से तनाव कि सम्भावना बढ़ सकती है.यही वजह है की TMC कार्यकर्ताओं के लखनऊ आने पर रोक लगा दी गई है.