अब ट्रैफिक नियमों को तोड़ने से पहले सौ बार सोचना पड़ेगा

3612

अगर आप लापरवाही से गाड़ी चलाते है, सीट बेल्ट, हेलमेट नही पहनते और ट्रैफिक नियमों का पालन नही करते है तो फिर सावधान हो जाए. आने वाले दिनों में जो ट्रैफिक नियमों का पालन नही करेगा उसे ज्यादा जुर्माना भरना पड़ेगा. नया मोटर वाहन संशोधन बिल 2019 लोकसभा और राज्यसभा में पास हो चुका है. सरकार 1 सितंबर से इसे लागू कर सकती है. 1 सितंबर से मोटर वाहन अधिनियम के 63 प्रावधान लागू होने वाले हैं.

केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी का कहना है कि मोटर व्हीकल एक्ट में नई पेनल्टी से नियमों का उल्लंघन करने वाले लोगों के अन्दर डर पैदा होगा. शराब पीकर गाड़ी चलाने, ओवरस्पीड करने और ओवरलोडिंग के साथ अन्य मामलों में भी जुर्माना बढ़ाया गया है. उन्होंने कहा कि सभी प्रावधान को जांच-पड़ताल के लिए विधि मंत्रालय के पास भेजा गया है और ये प्रावधान दो या चार दिन में पास होकर आ जाएंगे. उन्होंने जुर्माना बढ़ने से सड़क दुर्घटनाओं में कमी की उम्मीद जताई है.

नए मोटर अधिनियम में शराब पी कर गाड़ी चलाने वालों पर दो हजार रुपये की जगह उन्हें अब 10 हजार जुर्माना देना होगा. वहीं बिना सीट बेल्ट लगाए ड्राइविंग करने वालों को अब 100 रुपये की बजाय एक हजार रुपये जुर्माना देना होगा. वहीं बिना लाइसेंस गाड़ी चलाने वालों को 500 रुपये की बजाय 5,000 रुपए का जुर्माना देना पड़ेगा. मोटर वाहन बिल के तहत सड़क निर्माण में गड़बड़ी के कारण एक्सीडेंट होता है तो उसे बनाने वाली कंपनी या ठेकेदार पर भी एक लाख रुपये का जुर्माना लगेगा. वहीं अगर वाहन से पर्यावरण को नुकसान होता है तो सरकार उस वाहन को जब्त भी कर सकती है. पहले लोग ट्रैफिक नियमों को तोड़ने से घबराते नही थे पर अब नए मोटर वाहन संशोधन बिल से और नए प्रावधान लागू होने से लोगों को ट्रैफिक नियमों को तोड़ने से पहले दो बार सोचना पड़ेगा.