अब यहाँ के वैज्ञानिकों ने कोरोना को लेकर किया बड़ा दावा, कहा ये महामारी साल….

कोरोना के हर दिन बढ़ रहे प्रकोप के चलते पूरे देश मे पीएम मोदी ने लॉकडाउन को आगे बढ़ाने का फैसला लिया था. लॉकडाउन को 3 मई तक के लिए आगे बढ़ा दिया था. इसके बावजूद भी हालात नही सुध रहे जिसके बाद सरकार ने लॉकडाउन को 17 मई तक बढ़ाने का ऐलान किया है. इस महामारी से बचने के लिए सरकार के पास इसके अलावा अभी कोई विकल्प नही है.

जानकारी के लिए बता दें कोरोना की अभी तक कोई भी देश दवा नही बना पाया है. न ही अभी तक किसी तरह की वैक्सीन बनने की खबर आ रही है. हर दिन इस बीमारी की चपेट में लोग आते जा रहे हैं. जोकि सरकार के लिए बेचैनी बढ़ा रहे हैं. इसी बीच इस कोरोना वायरस को लेकर वैज्ञानिकों ने ऐसा दावा किया है जो आपकी नींद उड़ा देगा.

दरअसल यूनिवर्सिटी ऑफ मिनेसोटा के सेंटर फॉर इंफेक्शियस डिसीज रिसर्च एंड पॉलिसी (CIDRAP) की रिपोर्ट ने सबकी चिंता बढ़ा दी है. इस रिपोर्ट में बताया गया है कि कुछ केस में लक्षणों का पता न चलने की वजह से इसे नियंत्रित करना मुश्किल हो गया है.

गौरतलब है कि इस रिपोर्ट पर अध्यन और रिसर्च कर रहे वैज्ञानिकों ने दावा किया है कि सार्वजनिक चीजों को दोबारा शुरू करने से महामारी फिर से फैल सकती है और इस वायरस का कहर साल 2022 तक रह सकता है.