कौन है ये सांसद जिसकी तस्वीरें सोशल मीडिया पर हो रही हैं वायरल

337

लोकसभा चुनावी नतीजों ने देश में एक बार फिर मोदी लहर है इस बार को साबित किया है. बीजेपी को कुल 303 सीटें मिली है. सोशल मीडिया गुरुवार से ही चुनाव परिणाम के रंग में रंगा हुआ है लेकिन इसी बीच सोशल मीडिया पर एक नाम की चर्चा और है नाम है प्रताप चन्द्र सारंगी.. प्रताप चन्द्र सारंगी ने बालासोर से जीत हासिल की है. इन्हें ओडिशा का मोदी भी कहा जा रहा है. 24 को ट्वीटर पर सुलगना डैश नाम की यूजर ने कुछ तस्वीरें शेयर की इस ट्विटर पोस्‍ट को खबर लिखे जाने तक 3600 से अध‍िक बार रीट्वीट किया गया और 7700 लोगों ने इसे पसदं किया है. तस्वीरों कि शेयर करते हुए सुलगना ने लिखा कि ‘यह ओडिशा के मोदी हैं। इन्‍होंने शादी नहीं की। इनकी माताजी का बीते साल देहांत हुआ। इनके पास ज्‍यादा संपत्त‍ि नहीं है। एक छोटे से घर में रहते हैं। साइकल चलाते हैं। जमीनी स्‍तर पर इन्‍हें लोगों का समर्थन है। ओडिशा के बालासोर से जीत के बाद श्री पताप सारंगी दिल्‍ली जाने की तैयारी कर रहे हैं। इसके बाद कई तस्वीरें सारंगी की सोशल मीडिया पर सामने आ गयी.. लोग जमकर इनकी तारीफ कर रहे हैं. लोगों का तो यह भी कहना है कि सारंगी को मुख्यमंत्री बना देना चाहिए.. लोगों का कह रहे हैं कि सारंगी को समाजसेवा से काफी लगाव है, उनकी रूचि अध्यात्म और धर्मं में भी है.

अब आपको बताते हैं कि प्रताप चन्द्र सारंगी ने बीजेडी के रबीन्द्र कुमार जेना को 12956 वोटो से हराया है. हालाँकि सांसद बनने से पहले नीलगिरी विधानसभा से दो बार विधायक रह चुके हैं. उन्होंने 2014 में बजी लोकसभा चुनाव लड़ा था लेकिन हार का सामना करना पड़ा था. इस बार उनकी जीत हुई है. सारंगी को मोदी का करीबी भी माना जाता है. कहा तो यह भी जाता है कि जब भी मोदी ओडिशा आते हैं तो सारंगी से मुलाकात जरूर करते हैं. गरीब परिवार से ताल्लुख रखने वाले सारंगी का जन्म नीलगिरी में ही गोपीनाथपुर गांव में हुआ। 4 जनवरी 1955 को जन्‍मे सारंगी ने स्‍थानीय फकीर मोहन कॉलेज से भी ग्रेजुएशन की डिग्री ली। उनकी रूचि अध्यात्म में अधिक थी. वे राम कृष्ण मठ में साधू बनना चाहते थे लेकिन जब मठ वालों को इसकी जानकारी मिली कि उनकी माँ विधवा है तो उन्हें वहां से वापस जाकर माँ की सेवा करने को कहा गया. इसके बाद वे वापस आ गये और माँ की सेवा के साथ साथ समाज सेवा में लग गये.. उन्होंने आदिवासी इलाकों में कई स्कूल भी बनवाए है. 2014 लोकसभा चुनाव में दिए गये हलफनामें में उन्होंने अपनी सम्पत्ति 10 लाख रूपये बतायी थी.

हालाँकि सारंगी की जो तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हुई है इन तस्वीरों में सारंगी बेहद साधारण कपड़ो में नजर आ रहे हैं. किसी में स्नान करते हुए तो किसी में मोदी के साथ मंच पर, किसी तस्वीर में बाबा रामदेव के साथ तो किसी तस्वीर में पूजा पाठ करते नजर आ रहे हैं. प्रताप चन्द्र सारंगी जिस सीट से चुनाव जीते हैं 2014 में यहां बीजेडी के रबींद्र कुमार जेना जीते थे। जेना को 4,33,768 वोट मिले थे जबकि बीजेपी के प्रताप सारंगी को 2,91,943 वोट मिले थे। इस लोकसभा सीट पर कांग्रेस ने नवज्योति पटनायक को टिकट दिया था. यहां से 5 निर्दलीय सहित कुल 12 उम्मीदवार मैदान में थे.  इस सीट पर कांग्रेस में रहे श्रीकांत जेना की इलाके में मजबूत पकड़ थी, लेकिन इस बार वे कांग्रेस से अलग है. इसके बाद इस सीट की लड़ाई रोमांचक हो गई है हालाँकि इस बार लोकसभा चुनाव में सारंगी ने जीत हासिल की, उन्हें 4,83,858 वोट मिले और अब सुर्ख़ियों में छाये हए हैं. प्रताप चन्द्र सारंगी में ओडिशा से चलकर दिल्ली आ रहे हैं और देश में बनने जा रही मोदी सरकार में अपना योगदान देने वाले हैं. अब सारंगी विधानसभा नही बल्कि लोकसभा सीट का प्रतिनिधित्व करेंगे. जल्द ही देश में फिर से नरेन्द्र मोदी की सरकार बनने जा रही है.