भारत नेपाल के बीच सीमा बढ़ता सीमा वि’वाद, नेपाल के PM बोले “जमीन हमारी है वापस लेकर रहेंगे”

60

भारत और नेपाल के बीच सीमा विवा’द थमने का नाम ही नहीं ले रहा है. जिसकी वजह से तना’व बना हुआ है. वही नेपाल ने भारत के हिस्से वाली जगहों को भी अपने नक़्शे में शामिल कर लिया है. जिसकी वजह से दोनों देशों के बीच स्थिति काफी ज्यादा ख़राब हो गयी है. जिस पर अब भारत भी सड़क निर्माण को लेकर पीछे हटने के  लिए तैयार नहीं है.

जिसके बाद नेपाल ने भारत के साथ बातचीत करने की पेशकश रखी है. लेकिन भारत इस पर भी अपने फैसले को लेकर अडि’ग है. वही अब नेपाल के पीएम केपी शर्मा ओली ने एक बयान में कहा कि लिम्पियाधुरा, लिपुलेख और कालापानी विवा’दित भूमि है, जिसका पूरा भूगोल ही भारत के क’ब्जे में है. कालापानी में भारतीय सेना रख कर वहां से लिपुलेख और लिम्पियाधुरा पर भारत ने क’ब्जा कर लिया है.

आगे उन्होंने कहा कि सेना रख कर हमसे हमारी जमीन छीनी गई है. जब तक वहां भारतीय सेना की मौजूदगी नहीं थी, तब तक वह जमीन हमारे पास ही थी. लेकिन अब सेना वहां होने के कारण हम जा नहीं सकते. और ये एक तरीके से क’ब्ज़ा करना ही हुआ. हम हमारी जमीन लेकर रहेंगे और यही स’त्य है और इसकी ही जीत होगी. हमें विश्वास है कि हम अपनी जमीन को वापस लेकर रहेंगे.

जाहिर है दोनों देशों के बीच सीमा विवा’द को लेकर त’नाव बना हुआ है. जिसकी वजह से अब दोनों देशों के रिश्तों के बीच में क’टास भी पैदा हो गयी है. वही नेपाल हर तरीके से भारत के साथ बातचीत करने की पूरी कोशिश कर रहा है.