बिहार चुनाव से पहले सीट बंटवारे के बीच NDA को लगा ये बड़ा झटका

बिहार चुनाव की बात करें तो डेट डिक्लेअर हो चुकी है और इतना ही नहीं पहले चरण की अधिसूचना भी जारी हो गई हैं. लेकिन अभी तक बिहार में पार्टियों के अंदर सीट बंटवारे को लेकर वि’वा’द सुलझने का नाम नहीं ले रहा हैं. आये दिन इस वि’वा’द में कोई न कोई नया ट्विस्ट आ ही जाता है. एनडीए में चिराग पासवान ने पूरी तरह से ब’गा’व’ती सुर अ’ख्ति’या’र कर लियें हैं.

चिराग के बगावती सुर को देखते हुए बैठकों का दौर जारी है लेकिन अभी तक सीट बंटवारे पर बात नहीं बन पाई हैं. सीट शेयरिंग को लेकर जब मामला ज्यादा उलझता हुआ दिखा तो गृह मंत्री अमित शाह ने इसकी कमान अपने हाथ में ले ली है. दूसरी तरफ बीजेपी के नेताओं का कहना है की एनडीए में सब ठीक है लेकिन दिख इसके विपरीत रहा हैं. एनडीए की एकता ध्वस्त होती दिख रही है.

हालांकि, लग तो यही रहा है की एलजेपी ने एनडीए से किनारा तो कर लिया है लेकिन अभी तक इसकी आ’धि’का’रि’क पु’ष्टि नहीं की है. लेकिन पार्टी के प्रवक्ता ने यह साफ कर दिया कि एलजेपी खुलकर नीतीश कुमार की नीतियों का वि’रो’ध कर रही है और करेगी. साथ ही एलजेपी ने नीतीश कुमार पर ह’म’ला करते हुए कहा है कि ‘सरकार के सात निश्चय 2.0 को भ्र’ष्टा’चा’र का पिटारा बताया.’

एलजेपी पार्टी के प्रवक्ता अशरफ अंसारी ने बताया कि ‘हम 2015 से नीतीश कुमार की नीति’यों के खिला’फ हैं. हम एनडीए में हैं. इसलिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जिसको भी आशीर्वाद देंगे हम उनके साथ थे और यही मानना हमारे पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान का भी है.’ उन्होंने आगे कहा कि ‘एलजेपी बहुत जल्द फ’र्स्ट’ फेज के उम्मीदवारों की सूची जारी करेगी. एलजेपी ने करीब 56 सीटों को चिन्हित कर लिया है. पार्टी अपने उम्मीदवारों का नाम फाइनल कर चुकी है और चुनाव में जाने को तैयार है.’

Related Articles