सर्जिकल स्ट्राइक पर सबूत की मांग करने वाले नवजोत सिंह सिद्धू और कपिल सिब्बल की हुई जमकर खिंचाई

492

पुलवामा हमले के बाद वायुसेना ने पाक के घर मे घुसकर एयर स्ट्राइक की और आतंकियों के ठिकानों को निशाना बनाकर ना जाने कितने ही आतंकियों को मौत के घाट उतार दिया।
हम सभी भारतीयों का सीना चौड़ा करने के लिए तो यही काफी था लेकिन शायद हमारे ही देश के विपक्षियों को सेना का शौर्य और पराक्रम दिखाना पसन्द नही आया और वो लग गए सेना से सबुत मांगने। सिलसिला शुरू पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से हुआ और इसके बाद सबूत मांगने वालों की लिस्ट राशन लेने आए लोगो की तरह लंबी होती गई।कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह,कपिल सिब्बल और नवजोत सिंह सिद्धू ने सीधे सीधे कह दिया कि उन्हें सबूत चहिए।


कपिल सिब्बल और सिद्धू को लगा कि सेना पर सवाल उठाने के एवज में उन्हें लोगो का भरपूर साथ मिलेगा लेकिन हुआ ठीक उल्टा.


सिब्बल साहब ने ट्विटर पर लिखा किमोदीजी, न्यू यॉर्क टाइम्स,लंदन बेस्ड जेन इंफोमेशन ग्रुप,वासिंगटन ग्रुप,डेली टेलीग्राफ, द गार्जियन,रियूटर्स जैसी इंटर नेशनल मीडिया की रिपोर्टिंग में बालाकोट के भीतर आतंकवादियों के नुकसान की कोई खबर सामने नही आई है।
क्या आपने आतंक का राजनैतिककरण किया है??

अब उनका इतना पोस्ट करना था कि लोग भी हो गए चालू.


सबकी दीदी नाम की यूजर ने लिखा कि 5 साल से गायब था अब वापस कमाने का टाइम आ गया है इसलिए वापिस आया है।


ज़ुबिना अहमद लिख रही है सर क्या आपने अपने बाप से भी बाप होने का सबूत मांगा था।


अरुण सैनी लिख कह रहे हैं कि ताजा रुझानों में जैश चीफ की दौड़  के लिए सिद्धू सबसे आगे चल रहे है दिग्विजय और कपिल सिब्बल अब भी दूसरे और तीसरे नम्बर पर हैं।


मीना हिन्दू नाम की एक यूजर कह रही है कपिल सिब्बल आपके नाम के आगे जी लगाऊं या नही,क्योकि जी लगाती हूँ तो इस शब्द की बेज्जती होती है,और मैं आपके लिए जी शब्द की बेज्जती नही करना चाहती। आपके पास प्रूफ है है कि आपको पैदा करने वाला कौन है?? हमे अपनी सेना और पीएम पर पूरा भरोसा है।


ब्रह्मा नाम के यूजर लिख रहे हैं कि वाह सिब्बल जी,आपने इंटरनेशनल मीडिया पर तो यकीन कर लिया पर आपको हमारी सेना पर ही यकीन नही है।

विष्णु कह रहे है कि अब तुझे राफेल के आगे बांधकर ही पाक पर हमला करेंगे।


कुंवर अजय प्रताप सिंह कह रहे हैं कि कितने गद्दार देश मे छिपे हुए हैं,सब के सब सामने आते जाते जा रहे हैं।

ये तो बात हुई कपिल सिब्बल की फिर हमने सोचा कि थोड़ा रुख सिद्धू की ट्विटर प्रोफाइल का भी किया जाए,जब हम उनकी प्रोफाइल खंगाली तो उसमें तो और भी बुरा हाल निकला सिद्धू को कमेंट बॉक्स में लोगो ने इतना पीटकर रखा हुआ था कि सब कुछ तो हम दिखा भी नही सकते।

आगे बढ़े उससे पहले आप 3 मार्च को की गई सिद्धू की ये पोस्ट देखिए.

जिसमे लिखा है कि 300 आतंकवादी मारे गए,हां या ना।फिर क्या मकसद था ?? आप आतंकवादी मार रहे थे या पेड़ गिरा रहे थे। 
इसके पोस्ट के अपलोड होने के थोड़ी ही देर बाद  लोगो ने सिद्धू को ऐसे ऐसे रिप्लाई किए की नवजोत साहब शायद ही उन्हें पढ़ने की हिम्मत कर पाएंगे।

नील लिख रहे है  कि एयरफोर्स अगली बार स्ट्राइक पर जाना तो सिद्धू को भी मिसाइल पर बांध लेना,लाशें भी गिन लेगा और जनाजो को कंधा भी मिल जाएगा।

छगन लिख रहे है  कि सर क्या आपने अपने बाप से भी बाप होने का सबूत मांगा था।


इंडियन आर्मी नाम के यूजर लिख रहे हैं कि वाह सिद्धू जी वाह,आपको अपने पाकिस्तानी यार पर भरोसा है पर भारतीय सेना पर भरोसा नही। ऐसा क्यों ??
कल तक जिस पार्टी को आप अपनी माँ कहते थे आज उसी पार्टी पर सवाल उठा रहे हो,ये जायज है या नही इसका फैसला तो लोग खुद कर लेंगे लेकिन भारत और भारत की सेना से आखिर गद्दारी क्यो ??
नवनीत कह रहे है कि सिद्धू जी को सिर्फ पाकिस्तान और राहुल गांधी पर भरोसा है।


गुप्ता जी लिख रहे हैं कि इस आदमी पर मैं सिर्फ मैं एक ही बात बोलूंगा की ठोको गाली।

निक्की कह रहें हैं कि एक सच्चा कांग्रेसी गुलाम वही है जो बालाकोट एयर स्ट्राइक का सबूत मांगे लेकिन राफेल डील को बिना सबूत के ही स्कैम मान ले।

हजारों कमेंट्स आए जिनमे कांग्रेस के इन दोनों लीडर्स को अच्छे से धोया गया। केंद्रीय मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौर ने भी अपने बयान में कहा कि जिसको सबूत देखना हो वो बालाकोट जाकर देख सकता है। 

ख़ैर,हम तो यही कहेंगे कि ये जो भारत की जनता है ना साहब ये भले छोटी छोटी बातों पर आपस मे लड़ ले लेकिन देश और सेना के मसले पर सब एकजुट हो जाते है। यहां के बच्चे बच्चे में देशभक्ति भरी हुई है।
ये कमैंट्स तो कुछ भी नही है जो भी हमारे देश को कमज़ोर करने की बात करेगा उसको इससे भी कठोर भाषा में जवाब दिया जाएगा। उम्मीद है कि आगे से आप संभलेंगे और हमारी सेना पर सवाल उठाने से पहले 20 बार सोचेंगे,वरना यहां की जनता वक्त आने पर माकूल जवाब देने में भी पूरी तरह सक्षम है।