अमेरिकी संस्था के सर्वे में आये चौंकाने वाले नतीजे, दुनिया के सबसे लोकप्रिय नेता बने पीएम नरेंद्र मोदी

4107

दुनिया के सभी देश कोरोना वायरस से जूझ रहे हैं. सभी देशों की अर्थव्यवस्थाएं डांवाडोल है. अमेरिका में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प कोरोना से निपटने को लेकर सवालों के घेरे में हैं. उनकी मुश्किलें बढ़ गई हैं. लेकिन इस मुश्किल वक़्त में भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता का डंका बज रहा है. पीएम मोदी दुनिया के सभी नेताओं को पीछे छोड़ते हुए लोकप्रियता के मामले में पहले स्थान पर पहुँच गए हैं. ये खुलासा हुआ है अमेरिका की ग्लोबल डेटा इंटेलिजेंस कंपनी के हालिया सर्वे में.

मॉर्निंग कनसल्ट पॉलिटिकल इंटेलिजेंस अमेरिका की सबसे बड़ी ग्लोबल डेटा इंटेलिजेंस कंपनी है. इस कंपनी के हालिया सर्वे के मुताबिक़ 14 अप्रैल को पीएम मोदी की रेटिंग 68 प्रतिशत बताई गई है. साल के शुरुआत में यही रेटिंग 62 प्रतिशत थी. इस तरह कोरोना संकट के बावजूद पीएम मोदी की लोकप्रियता में 2 फीसदी का इजाफा हुआ है.

पीएम मोदी की बढ़ी लोकप्रियता का कारण उनके द्वारा कोरोना वायरस से निपटने की रणनीति और उठाये गए कदम है. इस मुश्किल वक़्त में पीएम मोदी एक वर्ड लीडर के तौर पर उभरे हैं, जिन्होंने ना सिर्फ अपने देश के लोगों के लिए सोचा बल्कि मुसीबत में फंसे दुसरे देशों की भी मदद की.

जिस वक़्त भारत में कोरोना के केस 500 थे तभी उन्होंने देशव्यापी लॉकडाउन का ऐलान कर दिया. पहले 21 दिनों के लिए लॉकडाउन का ऐलान किया, फिर जब हालात नहीं सुधरे तो उन्होंने इसे 19 दिनों के लिए और आगे बढ़ा दिया. इस मुश्किल समय में उन्होंने कई बार अपने देश की जनता से सीधे संवाद किया. पीएम मोदी ने इस वैश्विक महामारी से निपटने के लिए वर्ल्ड लीडर की भूमिका निभाते हुए दुनिया भर के देशों को एकजुट करने की पहल की. सार्क देशों की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये बैठक हो या फिर जी20 देशों की बैठक कराने के लिए किया जाने वाला पहल. इन सब कोशिशों से दुनिया भर में पीएम मोदी की लोकप्रियता बढ़ गई.

पीएम मोदी ने दुनिया भर के देशों की मदद भी की. उन्होंने जरूरी दवाओं के निर्यात से प्रतिबन्ध हटा कर हर जरूरतमंद देशों में उसकी सप्लाई सुनिश्चित की. दुनिया भर के नेताओं ने इसके लिए उनकी तारीफ़ की और उनका आभार जताया.

ट्रम्प की लोकप्रियता में गिरावट

मार्च के मध्य में ट्रम्प की रेटिंग 49 प्रतिशत थी जो गिरकर अब 43 प्रतिशत हो गई. अमेरिका में अब तक कोरोना से 40 हज़ार लोगों की मौ’त हो चुकी है. करीब डेढ़ लाख लोग कोरोना से संक्रमित है. लोग ट्रम्प के रेवैये से ख़ासा नाराज है. जापान के प्रधानमंत्री शिंजो अबे इस लिस्ट में सबसे नीचे हैं.