अपनी ही बात से पलटी खाकर राहुल गाँधी ने किया पीएम मोदी पर पलटवार , कह दी किसानो के लिए ये बात

1478

कोरो’ना वायरस की वजह से आज देश के अंदर लॉकडाउन हैं. उसका कारण है कि देश में कोरो’ना के मामले बहुत तेज़ी बढ़ रहें हैं. जिसकी वजह से कोरो’ना को रोकने के लिए देश को बंद करना बहुत जरूरी हो गया था. कोरो’ना वायरस को लेकर आज राहुल गांधी पहेली बार वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिये पत्रकारों से मुखातिब हुए जरूर लेकिन कुछ उसझन सी उनके चेहरे पर साफ नज़र आ रही थी. राहुत गांधी ने आज पत्रकारों के सवाल के जवाब तो दिये परन्तु कंफूज़न के साथ.

आज राहुल गांधी से बातचीत में कोरो’ना संक’ट पर ही राहुल ने ज्यादा बोला. इस दौरान राहुल गांधी विभिन्न महत्वपूर्ण मुद्दों पर या तो विरो’धाभा’सी बातें करते दिखे या ऐसा लगा कि जैसे उन्हें खुद पता नहीं हो कि हो क्या रहा है और होना क्या चाहिए? मसलन, राहुल गांधी ने कोरो’ना सं’कट के संभावित असर पर कहा कि ‘भविष्य में अनाज की भारी कमी होने वाली है’,फिर उसके तुरन्त बाद राहुल ने कहा कि फसल कटने पर अनाज रखने की जगह नहीं मिलेगी. राहुल कई अन्य मुद्दों पर भी खुद गहरे उलझन में दिखे.

खैर राहुल गांधी के लिए ये पहली बार ऐसा नही हुआ है. उनको खुद नही पता होता है कि बोलना क्या है और वो बोल कुछ जाते है. यही आज भी हुआ राहुल गांधी के साथ. राहुल गांधी ने आज भी मोदी सरकार की सिर्फ कमियां गिनाई और कुछ नही किया. लॉकडाउन के लेकर राहुल वोले कि इसे कोरो’ना ख’त्म नही होगा. लेकिन उनको पता होना चाहिए कि आज भारत देश ने समय रहते लॉक डाउन कर दिया था तो आज कंट्रोल में हैं. बाकि देशो की क्या हालत है राहुल गांधा खुद देख लें.

वैसे ये वक्त देश में एक साथ सबको मिलकर चलने वाला है ना कि राजनीति करने वाला. लेकिन कांग्रेस के रग रग में सिर्फ राजनीति ही करना है. उसको देश से मलतब ही नही है ऐसा लगता है.