मुरादाबाद में डॉक्टरों और पुलि’स पर हम’ला करने वाले लोगों की जेल से की गयी जांच तो निकले इतने कोरोना पॉजिटिव

देशभर में कोरोना का कहर लगातार बढ़ता जा रहा है. सरकार की तमाम कोशिशों के बावजूद भी कोरोना अपने पैर भारत में भी पसारता जा रहा है. अब भारत में भी कोरोना से संक्रमित मरीजों की संख्या 18 हजार के पार हो गयी है. इसके बढ़ते प्रकोप को चलते ही मोदी सरकार ने लॉकडाउन को आगे बढ़ाने का फैसला लिया और 3 मई तक पूरे देश में लॉकडाउन लागू कर दिया जिससे लोगों को इससे बचाया जा सके.

जानकारी के लिए लॉकडाउन के बीच उत्तरप्रदेश के मुरादाबाद जिले में 15 अप्रैल को कोरोना संदिग्धों को मेडिकल और पुलि’स की टीम लेने पहुंची थी. संदिग्धों को लेने पहुंची टीम पर भारी मात्रा में भीड़ ने पथराव कर दिया जिसमें महिलायें भी शामिल थी. इस हम’ले में डॉक्टरों की टीम घा’य’ल हो गयी और उनकी गाड़ी भी तोड़-फोड़ दी गयी. बस फिर क्या था भारी मात्रा में पहुंचे फ़ोर्स ने सभी को गिरफ्तार कर लिया.

डॉक्टर और पुलिस की टीम पर ह’म’ला करने के आरोप में 10 पुरुष और 8 महिलाओं को गिरफ्तार कर उन्हें जेल भेज दिया गया था. गिरफ्तार किये गये सभी लोग हॉटस्पॉट इलाके के थे, जिसके बाद जेल से ही अन्य लोगों को मिलाकर 58 संदिग्ध लोगों की जांच की गयी. जब उनकी रिपोर्ट आई तो पुलि’स के भी होश उड़ गये. जी हाँ 58 लोगों में से 15 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई.

गौरतलब है कि सबसे बड़ी बात ये है कि जो 15 लोग संक्रमित पाए गये उनमें से 5 लोग वो हैं जिन्होंने डॉक्टरों और पुलि’स की टीम पर हमला किया था. रिपोर्ट आने के बाद आरोपियों को पकड़ने में शामिल पुलि’सक’र्मियों सहित नागफनी थाने के स्टाफ को क्वारंटाइन कर दिया गया है. साथ ही पूरे इलाके को सैनेटाईज कर दिया गया है.