एक्ट्रेस बनने के लिए माँ ने ट्रेन में छोड़ दिया था बच्चा, अब 35 सालों बाद बच्चे ने माँगा मुआवजा

3938

मुंबई हाईकोर्ट में एक अजीब मामला सामने आया. 40 साल के एक शख्स ने एक पिटीशन फ़ाइल की है कि उसकी माँ ने 2 साल कि उम्र में ही उसे छोड़ दिया था. क्योंकि वो बॉलीवुड में एक्ट्रेस बनना चाहती थी. अब 38 साल बाद बेटे ने माँ से डेढ़ करोड़ का मुआवजा माँगा है और साथ ही ये भी मान की है कि उसकी माँ समाज के सामने ये स्वीकार करे कि वो ही उसका बेटा है.

पेशे से मेकअप आर्टिस्ट श्रीकांत सबनिस ने ये पेटीशन दाखिल किया है. उन्होंने कहा है कि, ‘अनजाने शहर में जानबूझकर छोड़ दिए जाने के कारण मेरा जीवन पूरी तरह कष्ट और मानसिक प्रताड़ना में बीता है. इसके लिए मां आरती महासकर और उनके दूसरे पति (सबनिस के सौतेले पिता) को हर्जाना देना होगा.’ साथ ही श्रीकांत ने कोर्ट से ये भी अपील कि है कि उसकी माँ को आदेश दिया जाए कि वो स्वीकार करे श्रीकांत ही उसका बेटा है.

पेटीशन के मुताबिक़ 1979 में श्रीकांत का जन्म हुआ. उसकी माँ आरती फिल्मों में हिरोइन बनना चाहती थी. इसलिए वो श्रीकांत को लेकात्र मुंबई के लिए निकली लेकिन ट्रेन में ही छोड़ दिया. उस वक़्त श्रीकांत की उम्र 2 साल थी. श्रीकांत को एक रेलवे अधिकारी ने बालगृह भेज दिया. जहाँ वो बड़ा हुआ. अब 38 सालों बाद श्रीकांत अपनी माँ और पिता से मुआवजा चाहते है. साथ ही अपनी सामाजिक स्वीकृति भी चाहते है. इस वक़्त श्रीकांत पिछले 20 सालों से बतौर मेकअप आर्टिस्ट फिल्म इंडस्ट्री में काम कर रहे हैं.

कुछ दिनों पहले एक ऐसा ही मामला प्रसिद्द गायिका अनुराधा पौडवाल के बारे में सामने आया था. केरल की एक महिला ने दावा किया था कि सिंगिंग में अपना कैरियर बनाने के लिए अनुराधा ने अपनी बेटी को छोड़ दिया था. अब 35 सालों बाद उनकी बेटी ने मुआवजा माँगा अनुराधा पौडवाल से. हालाँकि अनुराधा पौडवाल ने इन आरोपों को नकार दिया था.