उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सत्ता में आने के बाद से ही एक के बाद एक बड़े फ़ैसले ले रहे हैं. प्रदेश की कानून व्यवस्था को कैसे सही रखना है ये योगी से पूछे. उनके द्वारा उठाये गये क़दमों से आज अन्य राज्यों को भी सीख मिल रही है और वो भी अपने राज्य में वैसे ही व्यवस्था लागू कर रहे हैं. अभी हाल ही में CAA को लेकर देश के अलग-अलग हिस्सों में जमकर बवाल हुआ लेकिन उत्तरप्रदेश में सीएम योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए थे कि कानून हाथ में लेने वाले को छोड़ा नहीं जायेगा.

जानकारी के लिए बता दें अगर आप यूपी में रहते हैं तो आपके लिए एक बुरी खबर है. सीएम योगी एक ऐसा नियम बनाने जा रही है जिससे आपको दो से ज्यादा बच्चे करना भारी पड़ जायेगा. योगी सरकार अब दो से ज्यादा बच्चे करने को लेकर कड़े नियम बनाने जा रही है. अगर आपने दो से ज्यादा बच्चे किये तो आपको कई सरकारी लाभों से दूर किया जा सकता है.

दो से ज्यादा बच्चे करने वाले लोगों को सामाजिक कल्याण योजनाओं या पंचायत चुनाव में भाग लेने की अनुमति पर रोक लगा सकती है. दरअसल राज्य सरकार एक नई जनसँख्या नीति बना रही है जिसमें ये प्रावधान किये जा सकते हैं. स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह ने बुधवार को कहा है कि सरकार की नई नीतियों को जल्द ही घोषित कर दिया जाएगा. उन्होंने कहा है कि ‘अन्‍य राज्‍यों की जनसंख्‍या नीतियों का अध्‍ययन किया जा रहा है और उनमें से सबसे अच्‍छी नीतियों को लिया जाएगा और देश की सबसे अधिक आबादी वाले राज्‍य में लागू किया जाएगा।’

गौरतलब है कि देश में बढ़ रही जनसँख्या को लेकर लगातार ये सवाल उठ रहा है कि सरकार को अब जनसंख्या नियंत्रण के लिए कानून लाना चाहिए. वहीं असम की सरकार भी ये ऐलान के चुकी है कि जो लोग दो से ज्यादा बच्चे पैदा करते हैं उन्हें सरकारी सुविधाएं नहीं दी जाएगी. कई राज्यों में तो जिन लोगों के दो से ज्यादा बच्चे हैं उन्हें पंचायत चुनाव लड़ने की भी अनुमति नहीं दी जाती है. अब योगी सरकार जनसंख्या को लेकर नियम बनाकर बड़ा कदम उठा सकती है.